मेरठ की आबोहवा

मेरठ

 11-01-2018 05:33 PM
जलवायु व ऋतु

मेरठ, मानसून से प्रभावित नम उपोष्णकटिबंधीय जलवायु क्षेत्र में आता है और यहाँ का वातावरण दिल्ली जैसे आस पास के क्षेत्र से ज्यादा ठंडा होता है। मेरठ में ग्रीष्म ऋतु अप्रैल से जून तक होता है। गर्मी के इस मौसम में तापमान 49° सेल्सियस तक पहुँचता है और शिशिर ऋतु में, अक्टूबर से मार्च तक, मेरठ उतना ही ठंडा रहता है। 6 जनवरी 2013 में यहाँ का पारा -0.4° सेल्सियस तक नीचे उतरा था। बारिश का मौसम जून से लेकर सितम्बर तक का होता है तथा आर्द्रता 30 से 100% के बीच होती है। मेरठ की जलवायु दिल्ली, नोएडा जैसे आस-पास के शहरों से ज्यादा सुखद है। ब्रिटिश लोगों का मेरठ में छावनी बनाने के पीछे एक कारण यह भी था। शोधगंगा पर ब्रिटिश सेना ने छावनी बनाते समय कौनसे मुद्दों का ध्यान रखा इस विषय पर एक प्रबंध है। उसके अनुसार एवं स्टेट गज़ेटियर (1904) के तहत छावनी बनाते वक़्त उस जगह के भौगोलिक महत्व के साथ-साथ वहाँ की आभोहवा भी काफी मायने रखती है। आग्रा और औध संयुक्त प्रांतों के डिस्ट्रिक्ट गज़ेटियर (1904) में मेरठ की आबोहवा के बारे में ये वर्णन किया है –“ यहाँ की हवा स्वास्थ्यप्रद है। नवम्बर से मार्च तक यहाँ का मौसम सुहावना और स्फूर्तिदायक होता है....गठिया और अल्पविसर्गी ज्वर के मरीजों को यहाँ के गर्मी का मौसम राहत दिलाता है.....बंगाल और बम्बई (मुंबई) की मानसून धाराएं इस जगह लग-भग साथ मिलती हैं जिस वजह से यहाँ की बारिश हलकी तथा अक्सर अनिश्चित होती है।... ”। गज़ेटियर में मेरठ की आबोहवा की प्रशंसा करते हुए कहा गया है की भारत के सबसे स्वास्थ्यप्रद जगहों में से मेरठ एक है और यहाँ पर यूरोपीय लोगों में किसी भी बीमारी का प्रादुर्भाव जल्द नहीं होता जैसे अन्य जगहों पर होता है। चित्र के उपरी हिस्से में मेरठ का न्यू टाउन हॉल दिखाया गया है जिसका उद्घाटन ड्यूक ऑफ़ कनॉट ने किया था तथा निचले हिस्से में ड्यूक और डचेस ऑफ़ कनॉट को दिखाया गया है। 1. डिस्ट्रिक्ट गज़ेटियर ऑफ़ द यूनाइटेड प्रोविन्सेस ऑफ़ आग्रा एंड औध: हेन्री रिवेन नेविल, 1904 2. कॉन्सेप्ट, ओरिजिन एंड सायटिंग ऑफ़ कैंटोनमेंट टाउन्स http://shodhganga.inflibnet.ac.in/bitstream/10603/149469/13/09_chapter%201.pdf 3. https://en.wikipedia.org/wiki/Meerut



RECENT POST

  • लिडियन नाधास्वरम (Lydian Nadhaswaram) के हुनर को सलाम
    द्रिश्य 2- अभिनय कला

     21-04-2019 07:00 AM


  • अपरिचित है मेरठ की भोला बियर की कहानी
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     20-04-2019 09:00 AM


  • क्यों मनाते है ‘गुड फ्राइडे’ (Good Friday)?
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     19-04-2019 09:41 AM


  • तीन लोक का वास्तविक अर्थ
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     18-04-2019 12:24 PM


  • यिप्रेस (Ypres) के युद्ध में मेरठ सैन्य दल ने भी किया था सहयोग
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     17-04-2019 12:50 PM


  • मेरठ का खूबसूरत विवरण जॉन मरे के पुस्तक में
    भूमि प्रकार (खेतिहर व बंजर)

     16-04-2019 04:10 PM


  • पतन की ओर बढ़ता सर्कस
    द्रिश्य 2- अभिनय कला

     15-04-2019 02:37 PM


  • 'अतुल्य भारत' की एक मनोरम झलक
    द्रिश्य 1 लेंस/तस्वीर उतारना

     14-04-2019 07:20 AM


  • रामायण और रामचरितमानस का तुलनात्मक विवरण
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     13-04-2019 07:30 AM


  • शहीद-ए-आज़म उद्धम सिंह का बदला
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     12-04-2019 07:00 AM