मेरठ में बागवानी व्यवसाय

मेरठ

 09-01-2018 07:02 PM
बागवानी के पौधे (बागान)

गंगा यमुना की दोआब में बसा मेरठ अपनी उपजाऊ जमीन की वजह से कृषि के लिए जाना जाता था। यह भारत के अर्धपतझड़ वाले वर्षाकालिक पवन और सवाना जंगल के क्षेत्र में आता है जो वनस्पति जीवन के लिए काफी अच्छा माना जाता है। पिछले कई सालों में हुई जंगलों की बेतरतीब कटौती और उद्योगों की वजह से बढ़ते प्रदुषण के कारण आज यहाँ वनस्पति एवं जीव जगत में काफी कमी हुई है और साथ ही वन आवरण भी मात्र 21314 हेक्टेयर ही बचा है। मेरठ में आज खेती के नाम पर बागवानी की जाती है और वह भी विशेषरूप से विदेशी फूलों की जिनकी माँग दिल्ली और आस-पास के शहरों में बहुत ज्यादा है। ये सभी फूल-पौधे घर और बागों की शोभा बढ़ाने के लिए तथा शादी या किसी कार्यक्रम में सजावट के लिए या फिर तो बाग-बगीचों, घरों के लिए उद्यान (लैंडस्केप) आदि के निर्माण में इस्तेमाल किये जाते हैं। रजनीगंधा जो मूल मेक्सिको का फूल है, ग्लेडियोलस- लिली यह एशिया सहित यूरोप में पाया जाता है तथा उष्णकटीबंधिय अफ्रीका और मुख्यतः साउथ अफ्रीका के दक्षिणी तट पर पाया जाने वाला फूल है, गेंदा जो दरअसल दक्षिण और उत्तर अमरीका से है, गुलाब और उसकी विविध देसी-विदेशी प्रजातियाँ जैसे फ्लिंडर्स रोज तथा बोगनविल की पुष्पलताएँ जो पुर्तगाल और अर्जेंटीना से पुरे विश्व में आयी हैं; इन सभी फूलों की प्रजातियों का मेरठ में खासा व्यापार होता है। मेरठ सी डैप रिपोर्ट के अनुसार सरकार पुष्पकृषि के लिए इन फूलों को बढ़ावा देना चाहती है। 1. द इलस्ट्रेटेड इनसाइक्लोपीडिया ऑफ़ फ्लोवेरिंग प्लांट्स 2. फ्लोवेरिंग ट्रीज: एम एस रंधावा 3. सी डैप मेरठ 2007 4. न्यू प्लांट रेकॉर्ड्स फॉर द अप्पर गंगेटिक प्लेन फ्रॉम मेरठ एंड इट्स नेबरहुड: वाय एस मूर्ति और वी सिंह (स्कूल ऑफ़ प्लांट मोर्फोलोजी, मेरठ)



RECENT POST

  • वेस्टइंडीज का चटनी संगीत हैं भारतीय भजन संग्रह
    ध्वनि 1- स्पन्दन से ध्वनि

     19-05-2019 10:00 AM


  • उत्तर प्रदेश के महत्वपूर्ण औद्योगिक क्षेत्रों में से एक मेरठ का औद्योगिक विवरण
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     18-05-2019 10:00 AM


  • उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था में मेरठ की दूसरे नम्बर पर है हिस्सेदारी
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     17-05-2019 10:30 AM


  • प्रकाशन उद्योगों का शहर मेरठ
    ध्वनि 2- भाषायें

     16-05-2019 10:30 AM


  • विलुप्त होने की कगार पर है मेरठ का यह शर्मीला पक्षी
    पंछीयाँ

     15-05-2019 11:00 AM


  • दुनिया भर की डाक टिकटों पर महाभारत का चित्रण
    द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य

     14-05-2019 11:00 AM


  • एक ऐसी योजना जो कम करेगी मेरठ-दिल्ली के बीच के फासले को
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     13-05-2019 11:00 AM


  • माँ की ममता की झलक
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     12-05-2019 12:07 PM


  • महाभारत का चित्रयुक्त फारसी अनुवाद ‘रज़्मनामा’
    ध्वनि 2- भाषायें

     11-05-2019 10:30 AM


  • कैसे हुई हमारे उपनामों की उत्पत्ति?
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     10-05-2019 12:00 PM