मेरठ में शिकार

मेरठ

 21-12-2017 10:10 AM
जंगल
मेरठ गंगा यमुना दोआब में बसा शहर है। दोआब पर होने के कारण यहाँ पर सघन जंगलो के उगने की सम्भावना बढ़ जाती है। वर्तमानकाल में यदि कहा जाए की मेरठ करीब 100-150 वर्ष पहले एक घना जंगल हुआ करता था तो शायद ही कोई इसपर ऐतबार करे। मेरठ शहर में औद्योगिक क्रान्ति आने के पहले यह एक जंगलों वाला स्थान हुआ करता था। हिमालय के नजदीक होने के कारण यहाँ पर मौसम अत्यन्त सुहावना होता है और यही कारण है की अंग्रेजों ने यहाँ पर छावनी का निर्माण करवाया। अंग्रेजों के पहले यह क्षेत्र मुगलों द्वारा भी शिकार के लिये ही प्रयोग में लाया जाता था जिसका प्रमाण कई लेखों आदि से मिल जाता है। अंग्रेजों द्वारा इस क्षेत्र में एक अत्यन्त महत्वपूर्ण खेल खेला जाता था जिसे पिग स्टिक के नाम से जाना जाता था। इस खेल में जंगली सुअर को एक भाले द्वारा मारा जाता था। इस खेल पर कई पत्रिकायें निकला करती थी तथा इसपर कई प्रतियोगितायें करवाई जाती थी। परन्तु बड़ी मात्रा में किए गये शिकार के कारण आज यहाँ पर जंगली सुअर विलुप्त हो चुके हैं तथा जहाँ यह क्षेत्र एक समय अपने जंगलों के लिए जाना जाता था आज यहाँ से जंगल भी गायब हो चुके हैं। 1. द गेमः ए नॉवेल ऑफ़ सस्पेंस फीचरिंग मैरी रसेल एण्ड शेरलॉक होम्स: लौरी, आर. किंग 2. https://goo.gl/p8x4Eh 3. https://goo.gl/kNYUcj

RECENT POST

  • रंग जमाती होली आयी
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     21-03-2019 01:35 PM


  • होली से संबंधित पौराणिक कथाएँ
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     20-03-2019 12:53 PM


  • बौद्धों धर्म के लोगों को चमड़े के जूते पहनने से प्रतिबंधित क्यों किया गया?
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     19-03-2019 07:04 AM


  • महाभारत से संबंधित एक ऐतिहासिक शहर कर्णवास
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     18-03-2019 07:40 AM


  • फूल कैसे खिलते हैं?
    बागवानी के पौधे (बागान)

     17-03-2019 09:00 AM


  • भारत में तांबे के भंडार और खनन
    खदान

     16-03-2019 09:00 AM


  • क्या है पौधो के डीएनए की संरचना?
    डीएनए

     15-03-2019 09:00 AM


  • अकबर के शासन काल में मेरठ में थी तांबे के सिक्कों की टकसाल
    मध्यकाल 1450 ईस्वी से 1780 ईस्वी तक

     14-03-2019 09:00 AM


  • पक्षियों की तरह तितलियाँ भी करती है प्रवासन
    तितलियाँ व कीड़े

     13-03-2019 09:00 AM


  • प्राचीन काल में लोग समय कैसे देखते थे
    ठहरावः 2000 ईसापूर्व से 600 ईसापूर्व तक

     12-03-2019 09:00 AM