नाम अनेक , गुण अनेक - गांभारी

मेरठ

 08-10-2020 03:14 AM
पेड़, झाड़ियाँ, बेल व लतायें

गम्भारी भद्रपर्णी च श्रीपर्णी मधुपर्णिका।
काश्मीरी काश्मरी हीरा काश्मर्यह पीतरोहिणी।।
प्राचीन ग्रंथों के अनुसार गांभारी को कई नामों और गुणों से जाना जाता है, जैसे भद्रपर्णी, श्रीपर्णी, मधुपर्णिका, काश्मीरी, काश्मरी, होरा, काश्मार्या पिथरोहिनी, मधुरसा और महाकुसुमिका। ये सभी संस्कृत नाम हैं। स्वाद में यह मीठा, कसैला और कड़वा होता है। स्वभाव में गर्म और भारी होता है। गांभारी प्रजाति पाकिस्तान, भूटान और भारत के अलावा ब्राज़ील से लेकर इंडो-मलेशिया तक पाई जाती है। भारत में नीलगिरी के डेक्कन (Deccan) प्रायद्वीप, पूर्वी-पश्चिमी घाटों से लेकर नम पतनशील वनों जैसे हिमालय में गांभारी के वृक्ष मिलते हैं। उत्तर प्रदेश, पंजाब, उड़ीसा, प०बंगाल, असम, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु राज्यों और अंडमान द्वीप में ये प्रचुरता से पाए जाते हैं। ये वृक्ष नम, उपजाऊ ज़मीन में जिसमें पानी की निकासी की व्यवस्था हो, अच्छी तरह बढ़ते हैं। इसमें गुठलीदार फल लगते हैं। उसमें ब्यूटिरिक और टारटेरिक अम्ल (Butyric and Tartaric Acid), चीनी और थोड़ी टनीन (Tannin) होती है। इसकी पत्तियों में लूटिओलिन (Luteolin) मिलता है, जो ऑक्सीकरणरोधी होता है।
बनावट : गांभारी जल्दी बढ़ने वाला,पतझड़ी और दशमूला समूह का वृक्ष होता है, जिसमें दस जड़ों का समूह होता है। यह अपने औषधीय गुणों के लिए मशहूर है। कमज़ोरी दूर करने का इसमें अचूक गुण होता है। वात-पित्त रोगों का उपचार करता है। गांभारी की जड़ें, पत्तियाँ और फल सबमें औषधीय गुण होते हैं। गांभारी यानी गमेलिना अर्बोरिया (Gmelina Arborea) की ऊँचाई 20 मीटर तक होती है। पत्तियाँ साधारण, हृदय के आकार की, लाल-पीले रंग के उभयलिंगी फूल और नारंगी-पीले रंग के गुठलीदार- ख़ुशबूदार फल इसमें होते हैं।


प्रमुख औषधीय गुण :

गांभारी से अनेक स्वास्थ्य सम्बंधी दिक्कतें दूर होती हैं। ये दर्द विनाशक होती है और सूजन कम करने में मदद देती है। पाचन सम्बंधी शिकायतें दूर होती हैं। हृदय को स्वस्थ रखती है। गांभारी रक्तचाप नियंत्रक,स्मृतिवर्धक, एंटी एजिंग एजेंट (Anti Aging Agent), शक्तिवर्धक, रक्तवर्धक, बालों के लिए उपयोगी, एंटासिड (Antacid), पित्त सम्बंधी दिक्कतों को दूर करने वाली, अत्यधिक रक्तस्राव को रोकने, कुष्ठ के उपचार, बुख़ार तथा अन्य संक्रमणों को रोकने में सक्षम है।
प्राचीन समय से आज तक लगातार गांभारी की औषधीय खूबियाँ इसे प्रचलन में बनाए हुए हैं। अपने अनेक नामों की तरह ही इसके अनेक गुण भी हैं, जो सहजता से मनुष्य को स्वस्थ, दीर्घजीवी और युवा बनाए रखने में सक्षम हैं।

सन्दर्भ:
https://en.wikipedia.org/wiki/Gmelina_arborea
http://www.flowersofindia.net/catalog/slides/Gamhar.html
http://vikaspedia.in/agriculture/crop-production/package-of-practices/medicinal-and-aromatic-plants/gmelina-arborea
https://www.planetayurveda.com/library/gambhari-gmelina-arborea/(Ayurvedic verses)
चित्र सन्दर्भ:
मुख्य चित्र में गंभारी (टीक) के फूल और पत्तियों को दिखाया गया है। (Picsels)
दूसरे चित्र में गंभारी का फूल दिखाई दे रहा है। (Pikist)
तीसरे चित्र में गंभारी के तने को दिखाया गया है। (Flickr)
अंतिम चित्र में गंभारी के फूल और कली दिखाए गए हैं। (Wikimedia)


RECENT POST

  • हिंदू देवी-देवताओं की सापेक्षिक सर्वोच्चता के संदर्भ में है विविध दृष्टिकोण
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     22-10-2020 08:11 PM


  • पश्चिमी हवाओं का उत्‍तर भारत में योगदान
    जलवायु व ऋतु

     22-10-2020 12:11 AM


  • प्राचीनकाल से जन-जन का आत्म कल्याण कर रहा है, मां मंशा देवी मंदिर
    वास्तुकला 1 वाह्य भवन

     21-10-2020 09:32 AM


  • भारतीय खानपान का अभिन्‍न अंग चीनी भोजन
    स्वाद- खाद्य का इतिहास

     20-10-2020 08:52 AM


  • नवरात्रि के विविध रूप
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     19-10-2020 08:54 AM


  • बिलबोर्ड (Billboard) 100 का नंबर 2 गाना , कोरियाई पॉप ‘गंगनम स्टाइल’
    ध्वनि 1- स्पन्दन से ध्वनि

     18-10-2020 10:01 AM


  • जैविक खाद्य प्रणालियों के विकास का महत्व
    भूमि प्रकार (खेतिहर व बंजर)

     16-10-2020 11:19 PM


  • विश्व को भारत की देन : अहिंसा सिल्क
    तितलियाँ व कीड़े

     16-10-2020 06:08 AM


  • गैंडे के सींग को काट कर किया जा रहा है उनका संरक्षण
    स्तनधारी

     14-10-2020 04:44 PM


  • किल्पिपट्टु रामायण स्वामी रामानंद द्वारा रचित अध्यात्म रामायण की व्याख्या है
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     13-10-2020 03:02 PM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id