कृत्रिम प्रज्ञा(Artificial Intelligence) और फोटोग्राफी

मेरठ

 06-10-2020 02:05 AM
द्रिश्य 1 लेंस/तस्वीर उतारना

फोटोग्राफी में कृत्रिम प्रज्ञा( आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (Artificial Intelligence)) के प्रयोग ने इस कला को काफी आसान बनाया है और बहुत तरह की जटिलताएं कम हुई हैं। इससे फोटोग्राफी के भविष्य पर बहुत सकारात्मक प्रभाव पड़ा है।


क्या है कृत्रिम प्रज्ञा(आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस)

1956 की डॉर्टमाउथ कॉलेज (Dartmouth College) में हुई एक कॉन्फ्रेंस में पहली बार कृत्रिम प्रज्ञा के विषय में चर्चा हुई। उसके बाद आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस शब्द सार्वजनिक हो गया। मशीनों में इसके उपयोग से बहुत से काम आसान हो गए। बहुत से काम बिना कंप्यूटर की मदद से मनुष्य नहीं कर सकता लेकिन आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के जरिए वही काम आसानी से किया जा सकता है। एप्पल (Apple) के नए आईफोन (iPhone) में चेहरे पहचानने का नया सॉफ्टवेयर (Software) आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की ही देन है।

कृत्रिम प्रज्ञा और फोटोग्राफी का भविष्य

वास्तव में कृत्रिम प्रज्ञा स्मार्टफोन, मोबाइल बैंकिंग एप्स, कार का जीपीएस सिस्टम, कृत्रिम बाल प्रत्यारोपण (Hair Transplant) इत्यादि में हम इसका उपयोग कर सकते हैं। यह हर क्षेत्र में कारगर है और फोटोग्राफी भी इससे अछूती नहीं है। सच तो यह कि हम अपने स्मार्टफोन के कैमरे में इसका प्रयोग कर रहे हैं। अब फोटोग्राफी मात्र कैमरा, लेंस, सेंसर नहीं है, अब यह इनका समेकित रूप है, जो तुरंत फोटो खींचने का काम करता है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस ने फोटोग्राफी को कंप्यूटेशनल (Computational) प्रक्रिया में बदल दिया है, इससे फोटो संपादन का समय बहुत कम हो गया है और यह तो अभी शुरूआत है। अगले 5 वर्षों में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस फोटोग्राफी को पूरी तरह बदल देगा।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस फोटोग्राफी


जो हम देखते हैं, वह किसी जीवित व्यक्ति द्वारा खींचा (Click) या बनाया जा सकता है। इसमें भी कोई शक नहीं की छवि बनाने के हजारों उपकरण होते हैं, लेकिन उन सबके लिए एक मानवीय उपस्थिति जरूरी होती है। लेकिन अगर हम इस क्षेत्र में तरक्की की बात करें तो माइक्रोसॉफ्ट (Microsoft) ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से एक कलाकार तैयार किया है- ड्रॉइंग बोट (Drawing Bot)। यह किसी वस्तु के लिखित विवरण से उसकी प्रति छवि भी बना सकता है।

फोटोग्राफर पर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के प्रभाव
भविष्य में नए तकनीकी विकास से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस उपकरण फोटोग्राफी में मौजूदा तकनीक को बदल सकते हैं। एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस वाला कैमरा यह तय कर सकता है कि कब प्रकाश या फोटो कंपोजीशन (Photo Composition) सौंदर्य की दृष्टि से उपयुक्त है। अब वह दिन दूर नहीं है, जब हमारे पास पूरी तरह स्वचलित फोटोग्राफर होगा। गूगल (Google) की प्रतिक्रियाएं ज्यादा अच्छी नहीं है, लेकिन बीज तो बोये जा चुके हैं। पूर्ण विकसित होने वाली निर्माण तकनीक से भविष्य में अपनी तस्वीर बनाने में व्यवसाय खुद सक्षम हो जाएंगे, और व्यवसायिक फोटोग्राफर को अनुबंधित करने की जरूरत खत्म हो जाएगी।

सन्दर्भ:
https://www.theverge.com/2019/1/31/18203363/ai-artificial-intelligence-photography-google-photos-apple-huawei
https://berify.com/blog/how-ai-is-changing-photography/
https://medium.com/hackernoon/future-artificial-intelligence-and-photography-3346457970f0
https://medium.com/datadriveninvestor/future-of-photography-135437e66a8d
चित्र सन्दर्भ:
पहली छवि में कृत्रिम बुद्धिमत्ता फोटोग्राफी का उपयोग दिखाया गया है।(canva)
दूसरी छवि कैमरे से कच्ची तस्वीर है।(prarang)
तीसरी तस्वीर में संपादन और एयरटाइफिकल इंटेलिजेंस का उपयोग दिखाया गया है, जिसने तस्वीर को पूरी तरह से बढ़ाया है।(prarang)


RECENT POST

  • हिंदू देवी-देवताओं की सापेक्षिक सर्वोच्चता के संदर्भ में है विविध दृष्टिकोण
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     22-10-2020 08:11 PM


  • पश्चिमी हवाओं का उत्‍तर भारत में योगदान
    जलवायु व ऋतु

     22-10-2020 12:11 AM


  • प्राचीनकाल से जन-जन का आत्म कल्याण कर रहा है, मां मंशा देवी मंदिर
    वास्तुकला 1 वाह्य भवन

     21-10-2020 09:32 AM


  • भारतीय खानपान का अभिन्‍न अंग चीनी भोजन
    स्वाद- खाद्य का इतिहास

     20-10-2020 08:52 AM


  • नवरात्रि के विविध रूप
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     19-10-2020 08:54 AM


  • बिलबोर्ड (Billboard) 100 का नंबर 2 गाना , कोरियाई पॉप ‘गंगनम स्टाइल’
    ध्वनि 1- स्पन्दन से ध्वनि

     18-10-2020 10:01 AM


  • जैविक खाद्य प्रणालियों के विकास का महत्व
    भूमि प्रकार (खेतिहर व बंजर)

     16-10-2020 11:19 PM


  • विश्व को भारत की देन : अहिंसा सिल्क
    तितलियाँ व कीड़े

     16-10-2020 06:08 AM


  • गैंडे के सींग को काट कर किया जा रहा है उनका संरक्षण
    स्तनधारी

     14-10-2020 04:44 PM


  • किल्पिपट्टु रामायण स्वामी रामानंद द्वारा रचित अध्यात्म रामायण की व्याख्या है
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     13-10-2020 03:02 PM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.

    login_user_id