Machine Translator

बन तो गए यूट्यूब सितारा, फिर भी खाली आमदनी का पिटारा?

मेरठ

 27-04-2019 07:00 AM
नगरीकरण- शहर व शक्ति

वर्तमान समय में इंटरनेट (Internet) ने अपनी एक बहुत ख़ास जगह बना ली है। जहां इसके माध्यम से पूरा विश्व एक साथ जुड़ा हुआ है, वहीं यह वर्तमान में एक आवश्यकता भी बन गया है। इंटरनेट के माध्यम से चलने वाली वेबसाइट (Website) भी आज की पीढ़ी में खूब लोकप्रिय हो रही हैं। इसका उपयोग संगीत वीडियो (Video), हास्य प्रस्तुतियाँ, गाइड (Guide), खाना बनाने की विधि, और भी बहुत कुछ देखने के लिए किया जाता है। कई तरह के विषयों की कक्षाएं, विभिन्न प्रकार के समाचार, किसी विषय पर आधारित वाद विवाद, किसी टेलीविज़न (Television) कार्यक्रम के अंश भी आजकल यूट्यूब (Youtube) पर उपलब्ध हो जाते हैं। जिसके चलते आजकल के युवावर्ग में यूट्यूब काफी प्रसिद्ध हो चुका है।

परंतु चिंता का विषय यह है कि जहां विज्ञान और इंटरनेट के माध्यम से मानव जीवन बहुत सरल और सुगम हो गया है, वहीं इन पर निर्भरता एक समस्या का कारण बन गयी है। बच्चों का यूट्यूब पर दिन बिताना अभिभावकों की चिंता का मुख्य विषय बन गया है। जहां पहले के समय में बच्चों द्वारा डॉक्टर (Doctor) या इंजीनियर (Engineer) बनने के सपने देखे जाते थे वहीं वर्तमान में यूट्यूबर (Youtuber) बनने के सपने देखे जाते हैं। मैथियास बर्टल (Mathias Bärtl) के विश्लेषण के अनुसार, अमेरिका में यूट्यूबर बनने की कोशिश करने वाले युवा में से 96.5% युवा गरीबी रेखा से ऊपर नहीं उठ सकते क्योंकि वे अपने विज्ञापन से पर्याप्त पैसा अर्जित नहीं कर पाएँगे।

2005 के बाद जन्मे कुछ बच्चे जो यूट्यूब के माध्यम से कलाकारों की भिन्न तरह की वीडियो जैसे उनके दैनिक कार्यों, वीडियो गेम (Video Game) और सजधज आदि देखते हुए बड़े हुए हैं, वे उनसे काफी प्रभावित हैं तथा वे भी अपने भविष्य में एक विख्यात यूट्यूबर बनना चाहते हैं। ब्रिटेन में किए गए एक अध्ययन से यह पता चलता है कि 6 से 17 वर्ष की आयु का 3 में से एक ब्रिटिश बच्चा पूर्णकालिक यूट्यूबर बनना चाहता है। वहाँ यूट्यूबर बनने की चाह रखने वालों की संख्या डॉक्टर या नर्स बनने की चाह रखने वालों के मुकाबले तीन गुना है। साथ ही बर्टल के शोध से पता चलता है कि मुख्य 1 प्रतिशत विख्यात निर्माताओं ने 2016 में प्रति माह 22 लाख से 4.21 करोड़ व्यू (View) प्राप्त किए थे। ये शीर्ष-स्तरीय कलाकार प्रायः प्रायोजन या अन्य सौदों के माध्यम से पैसा कमाते हैं, इसलिए उनकी कमाई की गणना अधिक जटिल होती है।

कई लोगों को लगता है कि यूट्यूब में व्लोगिंग (Vlogging) करना काफी सरल होता है, लेकिन वास्तव में यह सबसे कठिन और धैर्य पूर्ण कार्य है। हजारों महिलाएं यूट्यूब पर व्लोगिंग करने की कोशिश करती हैं, किंतु उनमें से ज्यादातर सफल नहीं हो पाती हैं। वहीं यदि कोई यह सोचता है कि यूट्यूब सितारा बनना धन-दौलत कमाने का एक अच्छा मार्ग है, लेकिन वास्तव में यह असत्य है। अधिकतर यूट्यूबर अपने जीवन को चलाने के लिए केवल इस पर ही निर्भर नहीं रहते हैं बल्कि उन्हें जीवन चलाने के लिए अन्य काम भी करने पड़ते हैं।

हम में से अधिकांश के लिए, यूट्यूब परिवार और दोस्तों के साथ वीडियो साझा करने का या मनोरंजन का साधन है। जबकि कुछ लोगों के लिए यह पूर्णकालिक नौकरी भी है, जो यूट्यूब में अपनी वीडियो के माध्यम से आय अर्जित करते हैं, जिसका मुख्य साधन विज्ञापन होते हैं। वहीं प्रत्येक व्यक्ति को यह ध्यान में रखना चाहिए कि यूट्यूब पर आजीविका के लिये आधारित रहना चुनौतीपूर्ण होता है क्योंकि यह अत्यधिक प्रतिस्पर्धी है। वहीं कुछ वर्ष पहले यह देखा गया था कि यूट्यूब में डाले गए वीडियों में आधे वीडियो को केवल 500 से कम व्यूज़ मिलते हैं और केवल 0.33% वीडियो 1 मिलियन व्यूज (1 Million Views) तक पहुंच पाते हैं।

जाने कितना कठिन है यूट्यूब से पैसे कमाना :-
हालाँकि हममें से अधिकतर लोगों ने कई वीडियो बनाई होंगी और यूट्यूब पर अपना चैनल (Channel) भी बनाना शुरू कर दिया होगा। धीरे-धीरे सब्सक्राइबर (Subscriber) और व्यू बढ़ने के बाद सोचनीय विषय यह है कि अब इस वीडियो से पैसे कैसे अर्जित किए जाएं। तो आइए जानते हैं कि कैसे यूट्यूब के माध्यम से पैसे कमाए जाएँ?
सर्वप्रथम अपने दर्शक बनाएं: कई लोग इसमें प्रयास कर चुकें हैं, लेकिन सफल नहीं हो पाए हैं। यूट्यूब में अपनी वीडियो को लोगों के समक्ष प्रसिद्ध करने के लिए काफी मेहनत की आवश्यकता होती है।
मुद्रीकरण के लिए अपने चैनल को सेट करें: मुद्रीकरण करने के लिए पहले यूट्यूब के सहयोगी कार्यक्रम में शामिल होना होता है। आपको कुछ शर्तों से सहमत होना होगा, विशेष रूप से कि आप यूट्यूब के माध्यम से किसी भी प्रकार की धोखाधड़ी नहीं करेंगे।
अपनी वीडियो के लिए विज्ञापन का प्रारूप चुनें: अपलोड डिफ़ॉल्ट स्क्रीन (Upload Default Screen) पर आप अपने यूट्यूब चैनल पर दिखाए जाने वाले विज्ञापनों के प्रकारों का चयन करें।
सुनिश्चित करें कि ब्रांड (Brand) आपकी वीडियो पर विज्ञापन चाहे: एक अच्छा ब्रांड आपकी वीडियो पर अपना विज्ञापन तभी प्रस्‍तुत करेगा जब उसे आपकी वीडियो में समाज पर विपरीत प्रभाव डालने वाले विषयों से संबंधित कोई सामग्री ना मिले।
अपने प्रदर्शन को मापें: यूट्यूब आपकी वीडियो के कार्य को मापने के लिए विश्लेषणात्मक उपकरण प्रदान करता है, जो आपकी वीडियो के विषय में बताता है। आप अपने यूट्यूब विश्लेषणात्मक राजस्व रिपोर्ट (Report) में अपने चैनल और वीडियो के लिए अनुमानित आय के बारे में देख सकते हैं।
भुगतान प्राप्त करें: उपर्युक्त सभी चीजों के सही से संचालित होने के बाद आप पैसे कमाना शुरू कर सकते हैं। भुगतान के लिए कुछ आवश्यक चरण हैं। आपको यह पुष्टि करने की आवश्यकता है कि गूगल (Google) आपके सही भुगतानकर्ता के नाम और पते का उपयोग कर रहा है, और साथ ही आपको अपना पता सत्यापित करना होगा। आपको चेक (Cheque), इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (Electronic funds transfer) के माध्यम से सिंगल यूरो पेमेंट्स एरिया (Single Euro Payments Area), वायर ट्रांसफर (Wire transfer) और वेस्टर्न यूनियन क्विक कैश (Western Union Quick Cash) में से एक भुगतान प्रकार का चयन करना होगा।

संदर्भ :-
1.http://fortune.com/2018/02/27/youtube-success-poverty-wages/
2. https://bit.ly/2uVWPAp
3. https://bit.ly/2IG5ezX
4.https://influencermarketinghub.com/how-do-youtubers-get-paid/
5.https://vidooly.com/blog/top-10-youtubers-india/



RECENT POST

  • मेरठ की लड़की के बारे में किपलिंग की कविता
    ध्वनि 2- भाषायें

     20-06-2019 11:30 AM


  • फ्रॉक और मैक्सी पोशाक का इतिहास
    स्पर्शः रचना व कपड़े

     19-06-2019 11:12 AM


  • कश्मीर की कशीदा कढ़ाई जिसने प्रभावित किया रामपुर सहित पूर्ण भारत की कढ़ाई को
    स्पर्शः रचना व कपड़े

     18-06-2019 11:08 AM


  • क्या मछलियाँ भी सोती हैं?
    मछलियाँ व उभयचर

     17-06-2019 11:11 AM


  • सबका पहला आदर्श - पिता
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     16-06-2019 10:30 AM


  • सफलता के लिये अपनाएं ये सात आध्यात्मिक नियम
    व्यवहारिक

     15-06-2019 10:58 AM


  • भारतीय किसानों पर बढ़ता विदेशी आयातों का संकट समझाती है ये पुस्तक
    ध्वनि 2- भाषायें

     14-06-2019 11:01 AM


  • मेरठ में मौजूद हैं औपनिवेशिक भारत के कुछ पुराने क्लब
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     13-06-2019 10:42 AM


  • 20वीं सदी के कला आंदोलन का भारतीय स्‍वतंत्रता आंदोलन पर प्रभाव
    द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य

     12-06-2019 12:01 PM


  • मेरठ की जामा मस्जिद उत्तर भारत की सबसे पहली जामा मस्जिद
    वास्तुकला 1 वाह्य भवन

     11-06-2019 11:08 AM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.