बसंत पंचमी के शुभ अवसर पर सरस्वती स्तोत्रम का आनंद ले

मेरठ

 10-02-2019 10:19 AM
विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

सभी पाठकों को वसंत पंचमी की हार्दिक शुभकामनायें! हर वर्षवसंत पंचमी का त्यौहार वसंत ऋतु के आगमन को चिह्नित करता है। इस दिन सभी लोग ज्ञान, संगीत और हर तरह की कला की देवी माँ सरस्वती की पूजा करते हैं। माँ सरस्वती को कलात्मक ऊर्जा तथा सकारात्मकता के साथ जोड़ा जाता है। कहते हैं कि माँ सरस्वती ही इस संसार के रचयिता ब्रह्मा की कला का स्रोत हैं। इस समय सरसों के सभी खेत-खलियान भी पीले रंग से भरे होते हैं जिसे माँ सरस्वती के पसंदीदा रंग के रूप में देखा जाता है। इसलिए आज का दिन एक तरह से पीले रंग को भी समर्पित है।


तो चलिए आज वसंत पंचमी के इस पर्व को साथ मिलकर मनाएं और कानों में ‘सरस्वती स्तोत्रं’ के कुछ शब्दों को बिखरने दें। सरस्वती स्तोत्रं की रचना ऋषि अगस्त्य द्वारा की गयी थी। ऊपर दी गयी वीडियो पर क्लिक कर आप सरस्वती स्तोत्रं को सुन सकते हैं और साथ ही उसका उच्चारण भी कर सकते हैं क्योंकि वीडियो में नीचे की तरफ इसके बोल भी आप पढ़ सकेंगे।

सन्दर्भ:

1. https://vimeo.com/151299037


RECENT POST

  • रंग जमाती होली आयी
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     21-03-2019 01:35 PM


  • होली से संबंधित पौराणिक कथाएँ
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     20-03-2019 12:53 PM


  • बौद्धों धर्म के लोगों को चमड़े के जूते पहनने से प्रतिबंधित क्यों किया गया?
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     19-03-2019 07:04 AM


  • महाभारत से संबंधित एक ऐतिहासिक शहर कर्णवास
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     18-03-2019 07:40 AM


  • फूल कैसे खिलते हैं?
    बागवानी के पौधे (बागान)

     17-03-2019 09:00 AM


  • भारत में तांबे के भंडार और खनन
    खदान

     16-03-2019 09:00 AM


  • क्या है पौधो के डीएनए की संरचना?
    डीएनए

     15-03-2019 09:00 AM


  • अकबर के शासन काल में मेरठ में थी तांबे के सिक्कों की टकसाल
    मध्यकाल 1450 ईस्वी से 1780 ईस्वी तक

     14-03-2019 09:00 AM


  • पक्षियों की तरह तितलियाँ भी करती है प्रवासन
    तितलियाँ व कीड़े

     13-03-2019 09:00 AM


  • प्राचीन काल में लोग समय कैसे देखते थे
    ठहरावः 2000 ईसापूर्व से 600 ईसापूर्व तक

     12-03-2019 09:00 AM