रविवार व्यंग और कविताएं

मेरठ

 27-01-2019 10:00 AM
द्रिश्य 2- अभिनय कला

हँसने से आपके सभी दुःख दर्द हमेशा के लिए दूर हो जाएं ऐसा तो हम नहीं कह सकते हैं पर हाँ इससे क्षण भर के लिए ही सही पर आपके चेहरे पर एक मुस्कुराहट तो आ ही जाती है और कुछ क्षण के लिए ही सही पर आप अपनी सारी चिंताएं तो भुला ही देते हैं। तो आज रविवार के दिन हम आपके लिये ग़ाज़ियाबाद के एक बहुत ही मशहूर कवि कुमार विश्वास का एक हास्य से भरा वीडियो लाये हैं जिसे देख कर हँसते-हँसते आपका पेट फूल जायेगा और आप अपनी सारी चिंताओं को भुला कर इनके हास्य रस में डूब जायेंगे।

तो ऊपर दिए वीडियो पर क्लिक करें और इस वीडियो का भरपूर आनंद लें।

सन्दर्भ:

1.https://www.youtube.com/watch?v=yhsMPSvPxcQ



RECENT POST

  • स्थिर विद्युत(Static Electricity) के पीछे का विज्ञान
    स्पर्शः रचना व कपड़े

     22-02-2019 11:13 AM


  • ओलावृष्टि क्‍यों बन रही है विश्‍व के लिए एक चिंता का विषय?
    जलवायु व ऋतु

     21-02-2019 11:55 AM


  • हिन्दी भाषा के विवध रूपों कि व्याख्या
    ध्वनि 2- भाषायें

     20-02-2019 11:05 AM


  • उच्च रक्तचाप के लिये लाभकारी है योग
    य़ातायात और व्यायाम व व्यायामशाला

     19-02-2019 10:59 AM


  • रॉबर्ट टाइटलर द्वारा खींची गई अबू के मकबरे की एक अद्‌भुत तस्वीर
    द्रिश्य 1 लेंस/तस्वीर उतारना

     18-02-2019 11:11 AM


  • बदबूदार कीड़े कैसे उत्पन्न करते है बदबूदार रसायन
    गंध- ख़ुशबू व इत्र

     17-02-2019 10:00 AM


  • सफल व्यक्ति की पहचान
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     16-02-2019 11:55 AM


  • क्या होते हैं वीगन (Vegan) समाज के आहार?
    स्वाद- खाद्य का इतिहास

     15-02-2019 10:24 AM


  • क्‍या है प्रेम के पीछे रसायनिक कारण ?
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     14-02-2019 12:47 PM


  • स्‍वच्‍छ शहर बनने के लिए इंदौर से सीख सकता है मेरठ
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     13-02-2019 02:26 PM