फोटोग्राफी में करियर बनाने की असीम संभावनाएं

मेरठ

 11-01-2019 11:41 AM
द्रिश्य 1 लेंस/तस्वीर उतारना

कहते हैं एक ठीक से ली गई तस्वीर हज़ार शब्दों को बयां कर देती है। क्या आपको भी फोटोग्राफी (Photography) का शौक है? क्या आप भी अपने इस शौक को पेशे में बदलना चाहते हैं? भारत में कुछ साल पहले तक लोग फोटोग्राफी को एक शौक के रूप में देखते थे, लेकिन अब यह एक बड़े पैमाने पर उभरा है, आजकल हर क्षेत्र में अच्छे फोटोग्राफर (Photographer) की मांग है। इन दिनों, विज्ञापन, मीडिया (Media) और फैशन (Fashion) उद्योग में तेज़ी के साथ, फोटोग्राफी एक आकर्षक और रोमांचक कैरियर (Career) विकल्प के रूप में उभरा है जो कई भारतीय युवाओं के लिए रोज़गार के अवसर प्रदान कर रहा है। फोटोग्राफी ने अपने वर्षों के सफर में कई तकनीकी बदलाव देखे हैं और समय के साथ इसमें नए-नए क्षेत्र जुड़ते चले जा रहे हैं।

फोटोग्राफी- पात्रता मानदंड व योग्यता
यदि आप फोटोग्राफी में कोई प्रोफेशनल कोर्स (Professional Course) करना चाहते हैं तो 12वीं के बाद इसके कई तरह के कोर्स में दाखिला लेकर प्रोफेशनल फोटोग्राफी सीख सकते हैं। 12वीं के बाद फोटोग्राफी में कई तरह के डिग्री (Degree), डिप्लोमा (Diploma) और सर्टिफिकेट कोर्स (Certificate Course) होते हैं जिनमें अपनी कला को निखारने के लिए दाखिला लिया जा सकता है।

करियर के अवसर:
मीडिया, विज्ञापन और फैशन के बढ़ते महत्व के बीच फोटोग्राफी फील्ड में करियर के अवसर भी लगातार बढ़ रहे हैं। इस फील्ड में फ्रीलांसिंग (Freelancing) अर्थात स्वतंत्र कलाकार के रूप में कार्य करने के भी अच्छे मौके हैं। फोटोग्राफी फील्ड में करियर बनाने के अवसर निम्नलिखित हैं:

1. प्रेस फोटोग्राफ़र / फोटोजर्नलिस्ट (Press Photographers / Photojournalists):
फोटोजर्नलिस्ट राष्ट्रीय और वैश्विक प्रेस में चित्रों की आपूर्ति करते हैं। इस कैरियर की भूमिका अखबारों, पत्रिकाओं या टेलीविज़न के लिए सभी तरह के समाचारों, लोगों, स्थानों, खेल, राजनीतिक और सामुदायिक कार्यक्रमों में फोटो खींचने की क्षमता की मांग करती है। एक तस्वीर जर्नलिस्ट के पास एक अच्छी खबर की तस्वीर शूट करने के लिए पत्रकारिता का भाव होना चाहिए। मीडिया संस्थानों को हर साल कई सारे फोटो जर्नलिस्ट की आवश्यकता पड़ती है।

2. फ़ीचर फोटोग्राफर (Feature Photographers):
फ़ीचर फोटोग्राफी में मुख्य रूप से चित्रों के माध्यम से एक कहानी का वर्णन करना शामिल है और इसलिए फोटोग्राफर को इस विषय का संपूर्ण ज्ञान होना आवश्यक है। कई फोटोग्राफर वन्य जीवन, खेल, यात्रा, पर्यावरण आदि की फोटोग्राफी में माहिर होते हैं।

3. औद्योगिक फोटोग्राफर:
कॉरपोरेट (Corporate) क्षेत्र के फोटोग्राफर कंपनियों के लिए उनके उत्पाद और मशीनों की फोटो खींचते हैं। ये फोटोग्राफर कंपनी के ब्रोशर (Brochure), वार्षिक रिपोर्ट और विज्ञापन तथा बिक्री के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले सामानों, और कारखानों के अंदरूनी भाग और मशीनों के अंदर और बाहर आदि की तस्वीरें लेते हैं।

4. पोर्ट्रेट और वेडिंग फोटोग्राफर (Portrait and Wedding Photographers):
आजकल शादी-समारोह जैसे निजी आयोजनों के हर पल को संजोकर रखने के लिए बेहतर से बेहतर फोटोग्राफी कराने की होड़ लगी है। इसलिए वेडिंग फोटोग्राफर्स की खासी डिमांड रहती है। साथ ही साथ ये व्यक्तियों या छोटे समूहों की तस्वीरें, पालतू जानवरों, बच्चों, परिवारों, खेल और सामाजिक क्लबों की गतिविधियों आदि विषयों पर भी तस्वीरें लेते हैं।

5. विज्ञापन अथवा फैशन फोटोग्राफर:
फोटोग्राफी की इस शाखा में करियर की अपार संभावनाएं मौजूद हैं। हर एड एजेंसी (Ad Agency) को कुशल फोटोग्राफरों की आवश्यकता होती है। उनमें से एक बहुत बड़ा हिस्सा फ्रीलांसर का है। इस क्षेत्र में सफलता पूरी तरह से क्षमता, दक्षता और सही व्यक्तित्व पर निर्भर करती है। वहीं फैशन फोटोग्राफी भी इसी का हिस्सा है लेकिन इसमें तकनीक से ज्यादा परिधानों की खूबसूरती को उजागर किया जाता है। यह क्षेत्र भारत में हाल ही में विकसित हुआ है।

6. वैज्ञानिक फोटोग्राफर:
फोटोग्राफी की इस शाखा में भी बहुत स्कोप (Scope) है। आमतौर पर वैज्ञानिक फोटोग्राफर को फोटोग्राफी के अलावा कुछ अन्य विषयों जैसे, अभियांत्रिकी, चिकित्सा, जीव विज्ञान या रसायन विज्ञान जैसे क्षेत्रों में भी कुछ ज्ञान होता है जो इन्हें बेहतर चित्र खीचने में मदद करता है। कोई भी समाचार पत्रकारों के साथ काम कर सकता है या पर्यावरण, वन्य जीवन और अन्य क्षेत्रों पर स्वतंत्र कार्य पर फ्री-लैंसर के रूप में काम कर सकता है।

7. फ्रीलांस फ़ोटोग्राफ़र (Freelance Photographer):
फोटोग्राफरों में फ्रीलांसिंग सबसे लोकप्रिय कैरियर का विकल्प रहा है। स्व-रोज़गार वाले फोटोग्राफरों को व्यवसाय प्रबंधन में कुशलता विकसित करने की आवश्यकता है। वे उपरोक्त किसी भी क्षेत्र में फ्रीलांसिंग कर सकते हैं।

व्यक्तिगत कौशल
इस विषय में एक बुद्धिमान, उत्सुक और भ्रामक मन के अलावा एक प्राकृतिक वृत्ति, अवलोकन शक्ति, प्रशिक्षण, अभ्यास और आँख को सचेत रखने की आवश्यकता होती है। एक फोटोग्राफर को अपनी रचनात्मक क्षमता के साथ विवरणों को मिलाने की क्षमता होनी चाहिए ताकि एक तस्वीर को अपने कैमरे में अच्छी तरह से लिया जा सके।

फोटोग्राफ़ी पाठ्यक्रम के लिए शीर्ष कॉलेज/संस्थान

1. फिल्म और टेलीविज़न इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया–पुणे
2. मास कम्युनिकेशन रिसर्च सेंटर (एम.सी.आर.सी.), जामिया विश्वविद्यालय–नई दिल्ली
3. दिल्ली विश्वविद्यालय–नई दिल्ली
4. वाई.एम.सी.ए. सेंटर फॉर मास मीडिया–नई दिल्ली
5. एशियन अकादमी ऑफ फिल्म एंड टेलीविजन–नोएडा
6. सर अरबिंदो इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन–नई दिल्ली
7. इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मास मीडिया–नई दिल्ली
8. इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्यूनिकेशन–मणिपाल

दरअसल फोटोग्राफी हमेशा से ही एक मांग में रहा करियर विकल्प है। आधुनिक और डिजिटल कैमरे (Digital Camera) के आने से अब फोटोग्राफी पहले से ज्यादा आसान और लोकप्रिय हो गई है। आज फोटोग्राफी में खूब नाम और पैसा भी कमाया जा सकता है, शायद यही वजह है कि वर्तमान में इस क्षेत्र में बढ़ते करियर विकल्प के साथ-साथ प्रतिस्पर्धा भी बढ़ रही है। यह उन लोगों के लिए एक अच्छा व्यवसाय प्रस्ताव है जो वन्यजीवों, फैशन और शादी तथा जन्मदिन की पार्टियों की खूबसूरती को कैद करने में रुचि रखते हैं। आज डिजिटल कैमरों ने ऐसे लोगों के लिए स्वयं का फोटोग्राफी व्यवसाय शुरू करना आसान बना दिया है। इसी कारण पेशेवर फोटोग्राफी के व्यवसाय में प्रतिस्पर्धा भी बढ़ती जा रही है। वर्तमान में फोटोग्राफरों की इस भीड़ से बाहर निकल कर खुद की पहचान बनाने के लिये आपको प्रतिभा की बहुतायत में आवश्यकता है।

फोटोग्राफी के व्यवसाय में केवल विज्ञापन या मीडिया में फोटोग्राफी करके पैसे कमाना ही एक लौता विकल्प नहीं है। आप चाहे फोटोग्राफर के रूप में काम करें या विज्ञापन या मीडिया में एक फ्रीलांसर के रूप में कार्य कर रहे हों या चाहे आप एक शौकिया फोटोग्राफर ही क्यों न हों, आप अपनी तस्वीरों को बेच सकते है। यदि आपको लगता है कि लोग अपकी तस्वीरों के लिये भुगतान करने के इच्छुक हैं, तो आप निम्नलिखित वेबसाइटों (Websites) पर अपनी फोटो बेच सकते हैं:

गेटी इमेजेज़ (Getty Images): यह साइट सबसे ज्यादा विभिन्न ब्रांड और प्रकाशकों को आकर्षित करती है जो लाइसेंस (License) के लिए उच्च-गुणवत्ता या मुश्किल से मिलने वाली तस्वीरों की तलाश करते हैं। GettyImages.com के माध्यम से आपकी लाइसेंस प्राप्त तस्वीरों के लिए, बिक्री मूल्य की दर 20% से शुरू होती है।

शटरस्टॉक (Shutterstock): शटरस्टॉक एक माइक्रो-स्टॉक (Micro-stock) साइट है, जहां तस्वीरें सस्ती होती हैं, शटरस्टॉक फोटोग्राफर के सभी स्तरों के लिए डिज़ाइन किया गया है। तो यदि आप इस क्षेत्र में अभी ही कदम रख रहे हैं तो यह एक अच्छा विकल्प है। आप यहाँ 20% से 30% तक कमाई कर सकते हैं।

आइ स्टॉक (iStock): यह गेटी इमेजेज़ का ही एक माइक्रो-स्टॉक शाखा है। यहाँ पर एक फोटो के लिए मानक कमीशन (Commission) 25% से 45% तक है, जो छवि की लोकप्रियता पर निर्भर करता है।

500px: यह सिर्फ एक स्टॉक फोटो साइट नहीं है; यह फोटोग्राफरों के लिए एक समुदाय-आधारित मंच है। यहां अनुभवी फोटोग्राफर अपने काम को प्रदर्शित कर सकते हैं। आप अन्य फोटोग्राफरों को फॉलो (Follow) कर सकते हैं और अपने फ़ोटो को उनके स्टॉक में सूचीबद्ध कर सकते हैं। यह साइट फोटोग्राफरों को प्रतियोगिताओं में भाग लेने में सक्षम बनाती है। अपनी छवियों को इस ऑनलाइन बाज़ार पर 30% (अनैकांतिक के लिये) से 60% (एकांतिक के लिये) तक के कमीशन पर बेच सकते हैं।

स्टॉकसी (Stocksy): स्टॉकसी अपनी छवियों को बेचने की तलाश में एक लोकप्रिय विकल्प साबित हो रहा है। यह एक मध्य-श्रेणी स्टॉक फोटोग्राफी साइट है। यह साइट बेचने वाली छवियों के लिए फोटोग्राफर को 50-75% तक का कमीशन प्रदान करती है।

संदर्भ:
1.https://bit.ly/2D2f0YN
2.https://bit.ly/2QE19LW
3.https://www.shopify.in/blog/how-to-sell-photos-online



RECENT POST

  • मेरठ में आवारा कुत्तों(street dogs) से होने वाली परेशानियों का समाधान
    व्यवहारिक

     26-04-2019 07:00 AM


  • क्या कुष्ठ रोग एक लाइलाज बीमारी है ?
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     25-04-2019 07:00 AM


  • महाभारत का एक विचित्र जीव नवगुंजर
    शारीरिक

     24-04-2019 07:00 AM


  • भारतीय संहिता में रैगिंग (ragging) के खिलाफ कानून
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     23-04-2019 07:00 AM


  • कम्बोह वंश के गाथा को दर्शाता मेरठ का कम्बोह दरवाज़ा
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     22-04-2019 09:00 AM


  • लिडियन नाधास्वरम (Lydian Nadhaswaram) के हुनर को सलाम
    द्रिश्य 2- अभिनय कला

     21-04-2019 07:00 AM


  • अपरिचित है मेरठ की भोला बियर की कहानी
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     20-04-2019 09:00 AM


  • क्यों मनाते है ‘गुड फ्राइडे’ (Good Friday)?
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     19-04-2019 09:41 AM


  • तीन लोक का वास्तविक अर्थ
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     18-04-2019 12:24 PM


  • यिप्रेस (Ypres) के युद्ध में मेरठ सैन्य दल ने भी किया था सहयोग
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     17-04-2019 12:50 PM