बोर्ड गेम का प्रौद्योगिकीकरण

मेरठ

 13-10-2018 12:56 PM
हथियार व खिलौने

खेल जीवन का अभिन्‍न अंग होते हैं। खेल खेलने की परंपरा आज-कल या कुछ समय पूर्व की नहीं हैं बल्कि यह सदियों पहले से चली आ रही है बस समय के साथ विभिन्‍न खेलों के स्‍वरूपों में परिवर्तन होते रहे हैं। इन्‍हीं खेलों में से एक है बोर्ड पर खेले जाने वाले खेल। ये खेल विश्‍व की अनेक सभ्‍यताओं में देखने को मिलते हैं, जो पारंपरिक रूप से लकड़ी या गत्‍ते के बोर्ड पर खेले जाते हैं जिन्‍हें विभिन्‍न प्रकार की चित्रकारी और रंगों से सजाया जाता है। किंतु आधुनिक समय में इनका भी डिजिटलीकरण हो रहा है।

यदि इस खेल उपकरण के निर्माता उद्योगों पर नजर डालें तो वर्तमान समय में इनका दो तरह से निर्माण किया जा रहा है एक पारंपरिक तथा दूसरा आधुनिक। मेरठ शहर में एक बड़े पैमाने पर परंपरागत रूप से बोर्ड गेम को तैयार किया जाता है। किंतु लोगों का डिजिटल खेलों के प्रति बढ़ते झुकावों को देखते हुए इन्‍हें भी इसमें कुछ आधुनिक स्‍वरूप को शामिल करने की आवश्‍यकता है जो 21वीं सदी तथा आने वाली विकसित पीढ़ी के साथ सामंजस्‍य बैठा सकें।

पारंपरिक बोर्ड गेम को व्‍यक्तियों के समूह द्वारा एक साथ बैठकर खेला जाता है जैसे लुड़ो, कैरम, शतरंज तथा चेकर्स आदि। किंतु आधुनिक समय में विज्ञान द्वारा ऐसी-ऐसी तकनीक ढूंढ ली गयी हैं जिसमें आप कहीं भी अलग अलग बैठकर अपने फोन, कम्‍प्‍यूटर और टैबलेट आदि के माध्‍यम से इस प्रकार के सामूहिक खेलों का आनंद ले सकते हैं। तथा कई बोर्ड खेल बोर्ड में खेलने की अपेक्षा ऑनलाइन खेलने में ज्‍यादा आसान हो गये हैं। इनमें से कुछ इस प्रकार हैं :

कार्केसोन्ने खेल  (Carcassonne game) :
जर्मन का यह खेल प्रारंभ में  बोर्ड में कार्ड के माध्‍यम चार से पांच खिलाड़ियों के मध्‍य खेला जाता था जो आज ऑनलाईन खेल के रूप में परिवर्तित हो गया है। आधुनिक बच्‍चे इसे बोर्ड की अपेक्षा ऑनलाईन खेलना ज्‍यादा पसंद करते हैं। ऑनलाइन खेलने पर इस खेल में अंतिम स्‍कॉरिंग जानना भी आसान होता है। 

विंग्‍स ऑफ वॉर 
प्रथम विश्‍व युद्ध के आधार पर बना खेल है जो प्रारंभ में कार्ड व अन्‍य उपकरणों के माध्‍यम से बोर्ड पर खेला जाता था तथा आज यह एक विडियो गेम के रूप में लोकप्रिय हो रहा है। 

 

पोकेमॉन गो खेल :
इस बोर्ड गेम के डिजलीकृत स्‍वरूप ने ऑनलाइन खेल जगत में एक क्रांति ला दी। विश्‍व भर में लगभग 750 मिलियन लोगों द्वारा इस खेल को डाउनलोड किया गया जिसमें 60 मिलियन लोग इसमें निरंतर सक्रिय रहे। इस खेल को रोचक बनाने के लिए इसमें समय के साथ विभिन्‍न परिवर्तन किये गये तथा लगभग 40 लक्ष्‍य निर्धारित किये गये हैं। 

साथ ही कुछ समय से ऐसे बोर्ड गेम आ गये हैं जो एक साथ बैठकर एंड्रॉयड फोन या टैबलेट में खेले जा सकते हैं जैसे - ज़ोंबी 15’ या पिंगो पिंगो आदि इन गेम्स में डिजिटल साउंडट्रैक और क्रियाओं को ट्रिगर करने वाली आवाज़ को इस्तेमाल किया गया। वहीं एक्सकॉम बोर्ड गेम में खिलाड़ियों के लिए अलग-अलग टाइमर निर्धारित रहता है। स्पेस टीम, जिसमें 2-8 खिलाड़ी अपने एंड्रॉयड फोन में वाई फाई की मदद से खेल सकते हैं। वहीं वर्ल्ड ऑफ यो-हो एक समुद्री बोर्ड गेम है। इसे 2-4 खिलाड़ी एक मेप और स्मार्टफोन के जरिए खेल सकते हैं।

ऑनलाइन खेलों के आगमन ने कहीं ना कहीं बोर्ड गेम के व्‍यसाय को प्रभावित किया है यदि पारंपरिक रूप से बोर्ड गेम बनाने वाली कंपनियों को अपने उद्योग को आगे बढ़ाना है तो उन्‍हें इसमें प्रौद्योगिकि का निवेश करना ही होगा।  

संदर्भ : 

1.https://www.wired.com/2010/02/the-future-of-board-games-or-not/
2.https://www.wired.com/2011/01/rethinking-the-future-of-board-games/
3.https://medium.com/@getDized/board-game-companion-apps-and-new-ways-to-play-the-controversial-marriage-of-analog-and-digital-c0059a5a756
4.https://www.thehindu.com/sci-tech/technology/one-year-to-the-day-of-its-india-launch-pokemon-go-still-has-its-fanatical-followers/article21500023.ece 



RECENT POST

  • निरर्थक नहीं वरन् पर्यावरण का अभिन्‍न अंग है काई
    कीटाणु,एक कोशीय जीव,क्रोमिस्टा, व शैवाल

     12-12-2018 01:24 PM


  • विज्ञान का एक अद्वितीय स्‍वरूप जैव प्रौद्योगिकी
    डीएनए

     11-12-2018 01:09 PM


  • पौधों के नहीं बल्कि मानव के ज़्यादा करीब हैं मशरूम
    फंफूद, कुकुरमुत्ता

     10-12-2018 01:18 PM


  • रेडियो का आविष्कार और समय के साथ उसका सफ़र
    संचार एवं संचार यन्त्र

     09-12-2018 10:00 PM


  • सर्दियों में प्रकृति को महकाती रहस्‍यमयी एक सुगंध
    व्यवहारिक

     08-12-2018 01:18 PM


  • क्या कभी सूंघने की क्षमता भी खो सकती है?
    गंध- ख़ुशबू व इत्र

     07-12-2018 12:03 PM


  • क्या है गुटखा और क्यों हैं इसके कई प्रकार भारत में बैन?
    व्यवहारिक

     06-12-2018 12:27 PM


  • मेरठ की लोकप्रिय हलीम बिरयानी का सफर
    स्वाद- खाद्य का इतिहास

     05-12-2018 11:58 AM


  • इतिहास को समेटे हुए है मेरठ का सेंट जॉन चर्च
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     04-12-2018 11:23 AM


  • प्राचीन समय में होता था नक्षत्रों के माध्यम से खगोलीय घटनाओं का पूर्वानुमान
    जलवायु व ऋतु

     03-12-2018 05:15 PM