क्यों दिखती हैं कुछ तस्वीरों में आँखें लाल?

मेरठ

 26-09-2018 01:42 PM
द्रिश्य 1 लेंस/तस्वीर उतारना

हम में से सभी की तस्वीरों में कई बार हमारी आंखें लाल दिखाई देती हैं। जिसको देख हम काफी हंसी और मज़ाक भी करते हैं और कई बार चिंताजनक भी हो जाते हैं, लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि यह कैसे और क्यों होता है? चालिए आज जानते कुछ बातें इस विषय में।

जब आप कम रोशनी में फोटो खिंचवाते हैं तब फोटोग्राफी के समय कैमरे से निकलने वाली फ्लैश इतनी तेज़ होती है कि आंखों की पुतली (Pupil) को सिकुड़ने का समय नहीं मिल पाता है। यह तेज़ रौशनी पुतली के माध्यम से आंखों के अंदर जाती है और रेटिना (Retina) से टकराकर यह रौशनी प्रतिबिंब के रूप में कैमरा के लेंस से टकराती है और कैमरे में रेटिना का प्रतिबिम्ब कैद हो जाता है। चित्र में इसके लाल दिखने का कारण यह है कि कोरोइड (Choroid) नामक एक संयोजी ऊतक (Connective tissue) आँखों में एक परत के रूप में मौजूद होता है जो रेटिना का पोषण करता है। इस कोरोइड में प्रचुर मात्रा में स्थित रक्त को कैमरे द्वारा खींच लिया जाता है। जिस से आंखों का रंग लाल दिखाई देता है।

परन्तु ज़्यादातर ऐसा तभी होता है जब हम अंधेरे में कोई तस्वीर लेते हैं। वो इसलिए क्योंकि अंधेरे में बेहतर देखने के लिए हमारी पुतलियाँ ज़्यादा खुल जाती हैं ताकि ज़्यादा रौशनी आँखों में प्रवेश करे और हम बेहतर देख पाएं जो दिन के समय नहीं होता है। ऐसा अक्सर तभी होती है जब कैमरे के फ़्लैश और उसके लेंस के मध्य दूरी काफी कम हो।

अब आप यह सोच रहे होंगे कि कैसे हम आँखों को कैमरे में लाल आने से बचा सकते हैं, तो आइए जानते हैं इनके उपायों के बारे में:
1) कैमरे की फ्लैश को बंद करने से लाल आंखे तस्वीरों में नहीं आती हैं, इसके लिए पर्याप्त रौशनी वाली जगह में तस्वीर खिंचवाएं।
2) यदि फ्लैश का इस्तेमाल करना ज़रुरी है तो कैमरे पर सीधे मत देखें।
3) यदि आपके कैमरे में एंटी-रेड-आई फीचर (Anti Red Eye Feature) है तो उसे चालू करें।
4) अगर आपके पास एस.एल.आर./सिंगल लेंस रिफ्लेक्स (Single Lens Reflex) कैमरा है तो उसमें अलग से लगने वाली बाहरी फ्लैश का उपयोग करें।

वहीं तस्वीरों में लाल आँखों को ठीक करने के कुछ और तरीके भी मौजूद हैं:
1) यदि आप डिजिटल कैमरे का उपयोग कर रहे हैं, तो आप अपने कंप्यूटर पर फोटो अपलोड कर उसमें लाल आंख हटाने वाले सॉफ्टवेर (Software) का प्रयोग कर उसे हटा सकते हैं।
2) वहीं एंड्रॉइड (Android), आई.ओ.एस. (IOS) और विंडोज़ फोन (Windows Phone) के लिए भी कुछ ऐप्स उपलब्ध हैं, जिसमें ऑटो-एन्हांसमेंट टूल (Auto Enhancement Tool) के ज़रिए आंखों को प्राकृतिक बनाया और लाल आंखों को हटाया जा सकता है।

कई बार तस्वीरों में हमेशा लाल आँख का आना चिंताजनक बात भी हो सकती है। यदि तस्वीरों में आपकी सिर्फ एक ही आंख कई बार लाल दिखाई देती है, तो यह कुछ मामलों (बहुत कम) में ट्यूमर या मोतियाबिंद की ओर इशार करता है। वहीं अगर एक आंख तस्वीरों में सफेद या पीली दिखाई देती है तो यह गंभीर बिमारी जैसे कि, मोतियाबिंद, कोट रोग (Coats’ disease), नेत्र संक्रमण (Infection) और रेटिना डिटेचमेंट (Retinal detachment) का संकेत देती है। यह एक गंभीर बचपन के कैंसर रेटिनोब्लास्टोमा (Retinoblastoma) की चेतावनी का भी संकेत हो सकता है। यदि आप इनमें से किसी भी चीज़ को काफी ज़्यादा चित्रों में पाते हैं तो अपने नेत्र चिकित्सक से सलाह करें।

क्या आप जानते हैं कैमरे में जानवरों की आंखें भी प्रतिबिंब की वजह से ही चमकती है। उनमें टेपेटम ल्यूसिडम (Tapetum Lucidum) आंख के पीछे एक दर्पण की तरह काम करता है और रात को साफ देखने में मदद करता है। जब आपके कुत्ते या बिल्ली की आंखें तस्वीरों में हरे या पीले रंग की चमकती हैं, तो यह आप उनके टेपेटम ल्यूसिडम के ऊपर कैमरे के फ्लैश का प्रतिबिंब देख रहे हैं।

उपर्युक्त विवरण से अब आपको यह ज्ञात हो गया होगा कि तस्वीरों में आंखों के लाल दिखने के पीछे का क्या कारण है।

संदर्भ:
1.https://www.allaboutvision.com/resources/red-eye-photo.htm
2.https://lifehacker.com/why-your-eyes-look-red-in-photos-and-how-to-prevent-it-1785821974



RECENT POST

  • वृक्षों का एक लघु स्वरूप 'बोन्साई '
    शारीरिक

     13-12-2018 04:00 PM


  • निरर्थक नहीं वरन् पर्यावरण का अभिन्‍न अंग है काई
    कीटाणु,एक कोशीय जीव,क्रोमिस्टा, व शैवाल

     12-12-2018 01:24 PM


  • विज्ञान का एक अद्वितीय स्‍वरूप जैव प्रौद्योगिकी
    डीएनए

     11-12-2018 01:09 PM


  • पौधों के नहीं बल्कि मानव के ज़्यादा करीब हैं मशरूम
    फंफूद, कुकुरमुत्ता

     10-12-2018 01:18 PM


  • रेडियो का आविष्कार और समय के साथ उसका सफ़र
    संचार एवं संचार यन्त्र

     09-12-2018 10:00 PM


  • सर्दियों में प्रकृति को महकाती रहस्‍यमयी एक सुगंध
    व्यवहारिक

     08-12-2018 01:18 PM


  • क्या कभी सूंघने की क्षमता भी खो सकती है?
    गंध- ख़ुशबू व इत्र

     07-12-2018 12:03 PM


  • क्या है गुटखा और क्यों हैं इसके कई प्रकार भारत में बैन?
    व्यवहारिक

     06-12-2018 12:27 PM


  • मेरठ की लोकप्रिय हलीम बिरयानी का सफर
    स्वाद- खाद्य का इतिहास

     05-12-2018 11:58 AM


  • इतिहास को समेटे हुए है मेरठ का सेंट जॉन चर्च
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     04-12-2018 11:23 AM