मेरठ का शासन इतिहास और उससे जुड़े बदलाव

मेरठ

 15-06-2017 12:00 PM
मध्यकाल 1450 ईस्वी से 1780 ईस्वी तक
मेरठ कई प्रकार के संसाधनों से निहित था, जिस वजह यह भारत के इतिहास का एक अहम शहर था। मुग़ल साम्राज्य के दौरान अकबर के शासनकाल मे मेरठ मे ताम्बे की टकसाल का निर्माण किया गया था। यहाँ पर मुग़ल वास्तुकला का विकास कम हुआ था। 1739 मे जब नादिर शाह ने आक्रमण कर के इस भूभाग पर अपना राज्य स्थापित किया तो यहाँ पूरे राज्य मे अराजकता फ़ैल गयी। इस दौरान मेरठ पूरी तरह तबाह हो गया। यहाँ के लोग पलायन करने लगे और मेरठ ने अपना सारा आकर्षण खो दिया| परन्तु जब अंग्रजों ने 1803 मे दिल्ली पर कब्ज़ा किया तो लार्ड लेक ने मेरठ में छावनी स्थापित करवाई जो की व्यापक और बहुत मजबूत थी| इसके बाद इस शहर ने अपना गौरव व प्रतिष्ठा फिर से प्राप्त कर ली और उत्तर भारत के सबसे समृद्ध व सुरक्षित शहर में से एक बना। 1857 के गदर में यहाँ का मुग़ल शासन ढहा गया।

RECENT POST

  • शहरों और खासकर मेरठ में बढ़ती तेंदुओं की घुसपैठ
    स्तनधारी

     22-05-2019 10:30 AM


  • क्यों मिलते हैं वेस्टइंडीज़ क्रिकेटरों के नाम भारतीय नामों से?
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     21-05-2019 10:30 AM


  • अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) का इतिहास
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     20-05-2019 10:30 AM


  • वेस्टइंडीज का चटनी संगीत हैं भारतीय भजन संग्रह
    ध्वनि 1- स्पन्दन से ध्वनि

     19-05-2019 10:00 AM


  • उत्तर प्रदेश के महत्वपूर्ण औद्योगिक क्षेत्रों में से एक मेरठ का औद्योगिक विवरण
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     18-05-2019 10:00 AM


  • उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था में मेरठ की दूसरे नम्बर पर है हिस्सेदारी
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     17-05-2019 10:30 AM


  • प्रकाशन उद्योगों का शहर मेरठ
    ध्वनि 2- भाषायें

     16-05-2019 10:30 AM


  • विलुप्त होने की कगार पर है मेरठ का यह शर्मीला पक्षी
    पंछीयाँ

     15-05-2019 11:00 AM


  • दुनिया भर की डाक टिकटों पर महाभारत का चित्रण
    द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य

     14-05-2019 11:00 AM


  • एक ऐसी योजना जो कम करेगी मेरठ-दिल्ली के बीच के फासले को
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     13-05-2019 11:00 AM