मेरठ कि वास्तुकला: भारतीय, इस्लामिक और गोथिक का मेल

मेरठ

 14-06-2017 12:00 PM
वास्तुकला 1 वाह्य भवन
जैसे की हम जानते हैं मेरठ जिला एक लम्बे समय तक अंग्रजों के अधीन रहा था। इसकी झलक यहाँ की पुरानी इमारतों तथा वास्तु कलाओं में साफ़ रूप से दिखाई देती हैं। अंग्रेजों द्वारा बनाये वस्तुओं के आलावा बेगम समरू का वास्तुकला क्षेत्र मे किया गया कार्य उल्लेखनीय है। मेरठ में अंग्रेजी वास्तुकला के आलावा इस्लामिक वास्तु भी बहुत उभर के दिखाई देती है। बेगम समरू द्वारा बनाया गया बेसलिका ऑफ़ लेडी ग्रेस वास्तु कला के रूप मे एक उत्तम उदाहरण है। यहाँ कि वास्तुकला मे एक अलग प्रकार का मिश्रण दिखता है जिसमे भारतीय कला व गोथिक वास्तु का मेल है। 1. विमेंस आईज, विमेंस हैंड मेकिंग आर्ट एण्ड आर्किटेक्चर इन मॉडर्न इन्डिया: डी. फैरचाइल्ड रुग्ग्लेस 2. हिस्ट्री ऑफ़ इंडियन आर्किटेक्चर- जेम्स फर्गुसन

RECENT POST

  • ओलावृष्टि क्‍यों बन रही है विश्‍व के लिए एक चिंता का विषय?
    जलवायु व ऋतु

     21-02-2019 11:55 AM


  • हिन्दी भाषा के विवध रूपों कि व्याख्या
    ध्वनि 2- भाषायें

     20-02-2019 11:05 AM


  • उच्च रक्तचाप के लिये लाभकारी है योग
    य़ातायात और व्यायाम व व्यायामशाला

     19-02-2019 10:59 AM


  • रॉबर्ट टाइटलर द्वारा खींची गई अबू के मकबरे की एक अद्‌भुत तस्वीर
    द्रिश्य 1 लेंस/तस्वीर उतारना

     18-02-2019 11:11 AM


  • बदबूदार कीड़े कैसे उत्पन्न करते है बदबूदार रसायन
    गंध- ख़ुशबू व इत्र

     17-02-2019 10:00 AM


  • सफल व्यक्ति की पहचान
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     16-02-2019 11:55 AM


  • क्या होते हैं वीगन (Vegan) समाज के आहार?
    स्वाद- खाद्य का इतिहास

     15-02-2019 10:24 AM


  • क्‍या है प्रेम के पीछे रसायनिक कारण ?
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     14-02-2019 12:47 PM


  • स्‍वच्‍छ शहर बनने के लिए इंदौर से सीख सकता है मेरठ
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     13-02-2019 02:26 PM


  • मेरठ के युवाओं का राष्ट्रीय निशानेबाजी में बढता रुझान
    हथियार व खिलौने

     12-02-2019 03:49 PM