मेरठ और आभूषणों का व्यापार

मेरठ

 09-06-2017 12:00 PM
म्रिदभाण्ड से काँच व आभूषण
भारतीय आभूषणों का इतिहास करीब 5,000 साल पुराना है| आभूषण पहनने की लालसा व्यक्तियों मे शुरूआती समय से ही थी| भारत आभूषण निर्माण व इसे प्रयोग करने मे हमेशा से अग्रणी रहा है| मेरठ मे प्राचीन काल से ही परम्परागत आभूषणों का कार्य होता आ रहा है| मेरठ के आभूषणों कि चर्चा पूरे भारत मे है, यहाँ इनका अपना वैश्विक बाज़ार व हस्तकला केंद्र है| यहाँ के आभूषणों का बाज़ार व बनाने की प्रक्रिया 1908 में शुरू हुई थी| इस दौर के पहले मेरठ के आभूषण वैश्विक पटल पर मशहूर नहीं थे| उस समय हीरा बुलियन बैंक ने बने बनाये आभूषणों की बिक्रि शुरू कि जो परम्परागत उधारी व्यवसाय से बिल्कुल अलग था| इस नये कार्य ने आभूषण के क्षेत्र को नए व्यवसाय तथा रोजगार से अवगत कराया|

RECENT POST

  • कम्बोह वंश के गाथा को दर्शाता मेरठ का कम्बोह दरवाज़ा
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     22-04-2019 09:00 AM


  • लिडियन नाधास्वरम (Lydian Nadhaswaram) के हुनर को सलाम
    द्रिश्य 2- अभिनय कला

     21-04-2019 07:00 AM


  • अपरिचित है मेरठ की भोला बियर की कहानी
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     20-04-2019 09:00 AM


  • क्यों मनाते है ‘गुड फ्राइडे’ (Good Friday)?
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     19-04-2019 09:41 AM


  • तीन लोक का वास्तविक अर्थ
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     18-04-2019 12:24 PM


  • यिप्रेस (Ypres) के युद्ध में मेरठ सैन्य दल ने भी किया था सहयोग
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     17-04-2019 12:50 PM


  • मेरठ का खूबसूरत विवरण जॉन मरे के पुस्तक में
    भूमि प्रकार (खेतिहर व बंजर)

     16-04-2019 04:10 PM


  • पतन की ओर बढ़ता सर्कस
    द्रिश्य 2- अभिनय कला

     15-04-2019 02:37 PM


  • 'अतुल्य भारत' की एक मनोरम झलक
    द्रिश्य 1 लेंस/तस्वीर उतारना

     14-04-2019 07:20 AM


  • रामायण और रामचरितमानस का तुलनात्मक विवरण
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     13-04-2019 07:30 AM