प्रतिभा का गढ़, हमारा मेरठ

मेरठ

 09-06-2018 12:15 PM
द्रिश्य 2- अभिनय कला

सिनेमा का भारतीय समाज में एक अत्यंत महत्वपूर्ण स्थान है। जब से सिनेमा का आगमन भारत में हुआ है तभी से यह यहाँ पर लोगों के सर पर चढ़कर बोलता आ रहा है। सिनेमा एक माध्यम है जो कि समाज में व्याप्त कुरीतियों को प्रस्तुत करता है। यह समाज, दुनिया, देश, मनोरंजन आदि से जुड़ी चीजें आम जनता तक पहुंचाता है। भारत में सिनेमा के आगमन के दौरान ही देश में अनेकों सिनेमा घरों का निर्माण हुआ था जैसे कि मुंबई का ओपेरा हाउस, इम्पिरिअल आदि। मेरठ भी सिनेमा जगत से अछूता नहीं है। यहाँ पर बड़े पैमाने पर फिल्म जगत का बोलबाला था। यहाँ मात्र लोग फ़िल्में देखते ही नहीं हैं बल्कि वे फिल्मों में काम करने के लिए भी जाने जाते हैं।

मेरठ ने भारतीय सिनेमा जगत को कई सितारे भेंट किये हैं जो कि पूरे बोलीवुड में मेरठ का डंका पीट रहे हैं। अमिताभ बच्चन अभिनीत ‘भूतनाथ’ में मेरठ की इशिता मित्तल ने अभिनय कर के सबके सामने अपना लोहा मनवाया था। और हाल ही में उन्होंने अपनी प्रतिभा का सबूत देते हुए अपनी 12वीं की परीक्षा में विद्यालय में पहला स्थान और मेरठ जिले में तीसरा स्थान ग्रहण किया। राम तेरी गंगा मैली जैसी ब्लॉकबस्टर फिल्म में मुख्य किरदार के साथ ही मेरठ की मंदाकिनी का स्वागत रुपहले परदे पर हुआ था। मंदाकिनी ने हिंदी सिनेमा जगत में एक लम्बे समय तक अपने वर्चस्व को बनाये रखा था और उन्होंने कई हिंदी फिल्मों में अभिनय किया। मेरठ से ही कुछ ऐसे नाम बॉलीवुड में आये जिन्होंने एक युग की शुरुआत की। इन्हीं नामों में से एक हैं नसिरुद्दीन शाह। नसीरुद्दीन शाह की अपनी एक अलग शैली है तथा इनका अभिनय का अपना एक अलग ही तरीका है। नसीरुद्दीन शाह ने भारतीय सिनेमा को एक नयी पहचान से नवाजा है।

फिल्म जगत की एक महत्वपूर्ण नाम बन के उभरी नीतू सिंह का भी जन्मस्थान मेरठ ही रहा है। विशाल भारद्वाज भी मेरठ से ही सम्बंधित हैं। विशाल भारद्वाज हिंदी सिनेमा जगत में एक बड़े निर्सेशक के रूप में उभरे हैं। इनके अलावा कई फिल्मों में अद्वितीय अभिनय करने वाली चित्रांगदा सिंह भी मेरठ से ही हैं। इन सभी नामों को देख कर हम सहसा ही यह अंदाजा लगा सकते हैं कि मेरठ में मात्र सिनेमा प्रचलित ही नहीं है बल्कि लोगों द्वारा यहाँ पर सिनेमा जिया जाता है। सिनेमा के प्रति यहाँ पर पाए जाने वाले उत्साह का ही फल है कि यहाँ पर बड़ी संख्या में संगीत, नृत्य व मंच अभिनय के संस्थान पाए जाते हैं जहाँ पर मेरठ के युवा, बच्चे आदि प्रशिक्षण लेते हैं। वास्तव में यदि मनुष्य कुछ कर दिखाने की ठान ले तो फिर हमारे मेरठ जैसे सादगी वाले शहर से भी ऐसी प्रतिभाएं निकल सकती हैं।

1.https://timesofindia.indiatimes.com/city/meerut/child-actor-in-amitabh-starrer-tops-school-third-in-dist/articleshow/64334724.cms
2.https://en.wikipedia.org/wiki/Mandakini_(actress)
3.https://timesofindia.indiatimes.com/entertainment/hindi/bollywood/news/Bollywood-finds-its-stories-in-Meerut/articleshow/47553661.cms
4.http://www.meerutonline.in/city-guide/music-classes-in-meerut
5.http://www.meerutonline.in/city-guide/dance-classes-in-meerut



RECENT POST

  • क्यों मनाते है ‘गुड फ्राइडे’ (Good Friday)?
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     19-04-2019 09:41 AM


  • तीन लोक का वास्तविक अर्थ
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     18-04-2019 12:24 PM


  • यिप्रेस (Ypres) के युद्ध में मेरठ सैन्य दल ने भी किया था सहयोग
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     17-04-2019 12:50 PM


  • मेरठ का खूबसूरत विवरण जॉन मरे के पुस्तक में
    भूमि प्रकार (खेतिहर व बंजर)

     16-04-2019 04:10 PM


  • पतन की ओर बढ़ता सर्कस
    द्रिश्य 2- अभिनय कला

     15-04-2019 02:37 PM


  • 'अतुल्य भारत' की एक मनोरम झलक
    द्रिश्य 1 लेंस/तस्वीर उतारना

     14-04-2019 07:20 AM


  • रामायण और रामचरितमानस का तुलनात्मक विवरण
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     13-04-2019 07:30 AM


  • शहीद-ए-आज़म उद्धम सिंह का बदला
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     12-04-2019 07:00 AM


  • टेप का संक्षिप्‍त इतिहास
    वास्तुकला 2 कार्यालय व कार्यप्रणाली

     11-04-2019 07:05 AM


  • क्या तारेक्ष और ग्लोब एक समान हैं?
    पंछीयाँ

     10-04-2019 07:00 AM