क्या हमारा मेरठ भी कर सकता है ऐसा सौन्दर्यीकरण ?

मेरठ

 17-05-2018 02:24 PM
द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य

भारत कला और हुनर के क्षेत्र में काफ़ी प्रसिद्ध है। आज हम बहुत सी भारतीय चित्रकलाओं का आनंद उठा सकते हैं, और उसके माध्यम से भारतीय संस्कृति को महसूस कर सकते हैं। दिल्ली और मेरठ के बीच एक नया एक्सप्रेसवे (Expressway) बनाया जा रहा है। इसे दिल्ली और मेरठ की ओर से कुछ किलोमीटर तक निर्मित कर दिया गया है। दिल्ली की तरफ से तो सौंदर्यीकरण की प्रक्रिया भी शुरू हो गई है। यह कुछ सालों पहले दिल्ली के हौज़ खास से शुरू हुई थी। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एन.एच.ए.आई.) सराय काले खान-ग़ाज़ियाबाद खंड पर दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे के नवनिर्मित फ्लाईओवर के सौंदर्यीकरण के लिए विभिन्न कलाकारों को बुला रही है। कलाकार फ्लाईओवर के स्तंभों और मोड़ आदि के किनारे पर चित्र बनाते हैं। ये चित्र बेहद आकर्षक होते हैं और इनमें से सबसे उल्लेखनीय चित्र महाराष्ट्र का वार्ली कला है। वार्ली चित्रकला एक आदिवासी कला है और यह ज़्यादातर उत्तरी सह्याद्री क्षेत्र के आदिवासियों द्वारा बनाया जाता है। इस आदिवासी कला की शुरुआत महाराष्ट्र में हुई थी और यह वहाँ आज भी बनायी जाती है।

यह एक्सप्रेस वे दिल्ली को मेरठ से डासना के जरिये जोड़ता है। राष्ट्रीय हाईवे 24 जो कि उत्तर प्रदेश गेट तक है, उसे 14 लेन तक चौड़ा किया जाएगा, और यह भारत की सबसे चौड़ी सड़क होगी। दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे एक नियंत्रित राजमार्ग होगा। इस समय यात्रियों को यह दूरी तय करने में 2 घंटे लगते हैं लेकिन एक्सप्रेसवे के बन जाने के बाद उन्हें केवल 45 मिनट लगेंगे। इस एक्सप्रेसवे की दीवारों पर बहुत से चित्र बनाए गए हैं और अभी भी बनाये जा रहे हैं। यात्री यात्रा के दौरान इन चित्रों का मज़ा ले सकते हैं। ये चित्र मानो यात्रियों का स्वागत करने के लिए बनाये जा रहे हैं।

सौन्दर्यीकरण के लिए बहुत सी मुहीम चलाई जा रही हैं। ऐसी ही एक मुहीम दिल्ली को हरा-भरा करने के लिए हाल ही में निकली है जिसे चित्र में दर्शाया गया है। इसे वर्टीकल गार्डन कहते हैं, नगर निगम के अनुसार यह एक अभिनव सोच है और इससे दिल्ली के वातावरण में अच्छे बदलाव आ सकते हैं। वर्टीकल गार्डन आज एक ट्रेंड बन गया है और इसी कारण दिल्ली के दक्षिणी हिस्सों में 11 वर्टीकल गार्डन बनवाये जा रहे हैं। यह एक अच्छी मुहीम है क्योंकि इससे वायु प्रदूषण नियंत्रित तो होगा ही, साथ ही साथ अर्बन हीट आइलैंड इफ़ेक्ट (UHI) भी कम होगा। CSIR की जाँच द्वारा एक रिपोर्ट निकाली गई जिसके मुताबिक दिल्ली के तापमान में 5 से 10 सेलसियस का बदलाव आया है, यह बदलाव UHI द्वारा हुआ है। UHI भूमि को गर्म और प्रदूषित करता है, लेकिन अगर हम पेड़ रोपें तो UHI को नियंत्रित किया जा सकता है। दिल्ली सरकार ने नागरिक एजेंसीयों से राष्ट्रिय राजधानी में प्रदूषण कम करने के लिए बड़े पैमाने पर वर्टीकल गार्डन लगवाने का अनुरोध किया है।

क्या हमारे मेरठ में भी ऐसी मुहीम चलायी जा सकती है जिससे यहाँ पर भी मौसम में हो रहे बादलावों को रोका जा सके और यहाँ पर वायु प्रदूषण भी कम हो सके? क्यों नहीं! बदलते मौसम की मार से हमारा मेरठ भी कहाँ बचा है। चित्रकारी की भी मुहीम यहाँ चलायी जा सकती है जो कि सौंदर्य को चार चाँद लगाने के लिए महत्वपूर्ण कदम हो सकता है। जैसा कि बेगम पुल से लेकर दिल्ली महामार्ग तक? यदि हर व्यक्ति अपने वातावरण में बदलाव देखना चाहता है तो उसे खुद वो बदलाव बनना होगा।

1. http://indianexpress.com/photos/india-news/beautification-of-the-delhi-meerut-expressway-with-stunning-artwork-5164716/
2. https://timesofindia.indiatimes.com/city/delhi/why-vertical-gardens-is-such-a-cool-idea/articleshow/63851881.cms
3. http://www.dnaindia.com/delhi/report-go-green-delhi-government-promotes-vertical-gardening-to-curb-pollution-in-national-capital-2608412



RECENT POST

  • वृक्षों का एक लघु स्वरूप 'बोन्साई '
    शारीरिक

     13-12-2018 04:00 PM


  • निरर्थक नहीं वरन् पर्यावरण का अभिन्‍न अंग है काई
    कीटाणु,एक कोशीय जीव,क्रोमिस्टा, व शैवाल

     12-12-2018 01:24 PM


  • विज्ञान का एक अद्वितीय स्‍वरूप जैव प्रौद्योगिकी
    डीएनए

     11-12-2018 01:09 PM


  • पौधों के नहीं बल्कि मानव के ज़्यादा करीब हैं मशरूम
    फंफूद, कुकुरमुत्ता

     10-12-2018 01:18 PM


  • रेडियो का आविष्कार और समय के साथ उसका सफ़र
    संचार एवं संचार यन्त्र

     09-12-2018 10:00 PM


  • सर्दियों में प्रकृति को महकाती रहस्‍यमयी एक सुगंध
    व्यवहारिक

     08-12-2018 01:18 PM


  • क्या कभी सूंघने की क्षमता भी खो सकती है?
    गंध- ख़ुशबू व इत्र

     07-12-2018 12:03 PM


  • क्या है गुटखा और क्यों हैं इसके कई प्रकार भारत में बैन?
    व्यवहारिक

     06-12-2018 12:27 PM


  • मेरठ की लोकप्रिय हलीम बिरयानी का सफर
    स्वाद- खाद्य का इतिहास

     05-12-2018 11:58 AM


  • इतिहास को समेटे हुए है मेरठ का सेंट जॉन चर्च
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     04-12-2018 11:23 AM