Machine Translator

मेरठ में रोजगार की स्थिति

मेरठ

 06-06-2017 12:00 PM
नगरीकरण- शहर व शक्ति
रोजगार वर्तमान समाज की एक बहुत बड़ी समस्या है| ना सिर्फ भारत बल्कि यह पूरे विश्व की चिंता का कारण बन चुका है| जनसंख्या के लगातार बढ़ोतरी के कारण आज कई समस्यायें उजागर होने लगी हैं जैसे की आवास, भोजन, रोजगार इत्यादि| अगर उत्तर प्रदेश सरकार कि रोजगार रिपोर्ट को आधार बनाया जाये तो जो आंकड़े मेरठ के संदर्भ मे सामने आते हैं वह इस प्रकार है- मेरठ मे करीब 10 लाख लोग किसी ना किसी प्रकार का रोजगार करते हैं| यहाँ पर कुल आबादी मे 32 प्रतिशत लोग ग्रामीण श्रमिक है और यहाँ के प्रमुख रोजगार मुहैया कराने वाले कारकों मे कृषी, खेल-कूद का सामान, कैंची, वादन यंत्र, कृत्रिम आभूषण आदि हैं।

RECENT POST

  • भारतीय स्वास्थ्य सेवा द्वारा एंटीबायोटिक प्रतिरोध से लड़ने की पहल
    कीटाणु,एक कोशीय जीव,क्रोमिस्टा, व शैवाल

     18-09-2019 11:08 AM


  • क्या सम्बन्ध है आगरा की शान, पेठा और ताजमहल में
    स्वाद- खाद्य का इतिहास

     17-09-2019 11:09 AM


  • क्या हैं अनुवांशिक बीमारियां और उनके कारण?
    डीएनए

     16-09-2019 01:35 PM


  • आखिर कौन हैं भारत के मेट्रोमेन (Metroman)
    आधुनिक राज्य: 1947 से अब तक

     15-09-2019 02:27 PM


  • यमुना नहर से है आई.आई.टी. रुड़की का गहरा संबंध
    मध्यकाल 1450 ईस्वी से 1780 ईस्वी तक

     14-09-2019 10:30 AM


  • मेरठ शहर और इसमें फव्वारों का इतिहास
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     13-09-2019 01:42 PM


  • क्या हैं मछलियों की आबादी में आ रही गिरावट के प्रमुख कारण
    मछलियाँ व उभयचर

     12-09-2019 10:30 AM


  • कैसे ली वैज्ञानिकों ने अंतरिक्ष में मौजूद ब्लैक होल की फोटो?
    द्रिश्य 1 लेंस/तस्वीर उतारना

     11-09-2019 12:11 PM


  • मोहर्रम में किए जाने वाले जुलूस और अन्य समारोह
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     10-09-2019 02:24 PM


  • स्तनधारियों की तुलना में क्यों होती है पक्षियों की उम्र काफी लंबी?
    पंछीयाँ

     09-09-2019 12:26 PM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.