हाथियों की क्रमागत उन्नति

मेरठ

 12-04-2018 11:54 AM
स्तनधारी

हाथी ज़मीन पर चलने वाले सबसे बड़े स्तनधारी जीव हैं, इनका वज़न करीब 6 टन तक होता है और इनकी आयु 100 वर्ष की होती है। आज के समय में मुख्य रूप से दो प्रकार के हाथी पाए जाते हैं और वे हैं - एशियाई हाथी (Asian Elephant) और अफ्रीकी हाथी (African Elephant)। थाईलैंड में सफ़ेद हाथी भी पाए जाते हैं। इन हाथियों में सभी चीजें सामान्य हैं पर क्रमागत उन्नति और परिवर्तन के कारण हाथियों के वज़न, लम्बाई, दांत, और कान में थोड़ी असामान्यताएँ हैं। उदाहरण- एशियाई हाथी का वज़न और कान की लम्बाई अफ्रीकी हाथी से छोटी होती है। यह माना जाता है कि 5-6 करोड़ वर्ष पूर्व एक मोरिथेरियम्स (Moeritheriums) नामक प्रजाति थी और इसका आकार आज के सूअर के बराबर था। कहते हैं कि यही जानवर हाथियों का पहला पूर्वज है और हाथियों का विकास इसी पूर्वज द्वारा हुआ है। रूपात्मक सबूतों से यह पता चला है कि मैनेटीज़ डुगोंग्स (Manatees Dugongs) और हायरेक्सेस (Hyraxes) आज के हाथियों के करीबी रिश्तेदार हैं। हाथियों को प्रोबोसिडे (Proboscidae) की श्रेणी में लिया जाता है, इसका अर्थ है वह जानवर जिसकी सूंड (Trunk) हो।

हाथियों के क्रमागत उन्नती के इतिहास में यह पाया गया है कि पहले के समय में प्रोब्सिडियन्स (Probscideans) की 352 प्रजातियाँ थीं। यह प्रजातियाँ ऑस्ट्रेलिया और अंटार्टिका छोड़ सभी महाद्वीपों में गईं और इसलिए केवल दो ही प्रजातियाँ मौजूद हैं और वे हैं अफ्रीकी और एशियाई हाथी। जैसे-जैसे हाथी विकसित होते गए उनकी खोपड़ी, दांत और सूंड सभी आकार में बड़े हो गए; इससे इन्हें काफी मदद मिली क्योंकि वे सूंड से ही बड़े पेड़ों से फल तोड़ सकते थे, ज्यादा से ज्यादा पानी अपनी सूंड में भर सकते थे और भारी वज़न उठा सकते थे। हाथियों का सबसे समीप रिश्तेदार मैमथ (Mammoth) है। यह जानवर 2 करोड़ साल पहले पाया जाता था और अब विलुप्त हो चुका है; इसका आकार आज के हाथी से काफ़ी बड़ा था और इससे हम यह कह सकते हैं कि समय के साथ हाथी विकसित होते-होते आकार में छोटे हो गए हैं।

हाथियों के विकास की समय रेखा-
1. पेलियोमास्टोडॉन (Palaeomastodon) - 3.8 करोड़ वर्ष पूर्व
2. मैमूट/स्टेगोडॉन (Mammut/Stegodon) - 2 करोड़ वर्ष पूर्व
3. गोम्फोथीरियम (Gomphotherium) - 2.4 करोड़ वर्ष पूर्व
4. प्राइमलिफस (Primelephas) - 5 करोड़ वर्ष पूर्व
5. ऐनेकस/मैमेथस (Anacus/Mammathus) - 2 करोड़ वर्ष पूर्व
6. ऐलिफस/लोक्सोडोंटा (Elephas/Loxodonta) - 10,000 वर्ष - अब तक

मेरठ का हाथियों से अत्यन्त गहरा रिश्ता है, यही कारण है कि यहाँ के एक स्थान का नाम हस्तिनापुर है।

1. www.eleaid.com
2. defenders.org
3. www.elephant.co.uk



RECENT POST

  • निरर्थक नहीं वरन् पर्यावरण का अभिन्‍न अंग है काई
    कीटाणु,एक कोशीय जीव,क्रोमिस्टा, व शैवाल

     12-12-2018 01:24 PM


  • विज्ञान का एक अद्वितीय स्‍वरूप जैव प्रौद्योगिकी
    डीएनए

     11-12-2018 01:09 PM


  • पौधों के नहीं बल्कि मानव के ज़्यादा करीब हैं मशरूम
    फंफूद, कुकुरमुत्ता

     10-12-2018 01:18 PM


  • रेडियो का आविष्कार और समय के साथ उसका सफ़र
    संचार एवं संचार यन्त्र

     09-12-2018 10:00 PM


  • सर्दियों में प्रकृति को महकाती रहस्‍यमयी एक सुगंध
    व्यवहारिक

     08-12-2018 01:18 PM


  • क्या कभी सूंघने की क्षमता भी खो सकती है?
    गंध- ख़ुशबू व इत्र

     07-12-2018 12:03 PM


  • क्या है गुटखा और क्यों हैं इसके कई प्रकार भारत में बैन?
    व्यवहारिक

     06-12-2018 12:27 PM


  • मेरठ की लोकप्रिय हलीम बिरयानी का सफर
    स्वाद- खाद्य का इतिहास

     05-12-2018 11:58 AM


  • इतिहास को समेटे हुए है मेरठ का सेंट जॉन चर्च
    उपनिवेश व विश्वयुद्ध 1780 ईस्वी से 1947 ईस्वी तक

     04-12-2018 11:23 AM


  • प्राचीन समय में होता था नक्षत्रों के माध्यम से खगोलीय घटनाओं का पूर्वानुमान
    जलवायु व ऋतु

     03-12-2018 05:15 PM