Machine Translator

मेरठ में खादी का उत्पादन

मेरठ

 22-03-2018 11:21 AM
स्पर्शः रचना व कपड़े

मेरठ को लघु उद्योग क्रांति का शहर यूँ ही नहीं कहा जाता। यहाँ पर कई विभिन्न प्रकार के उद्योग पाए जाते हैं। उन्ही उद्योगों में से एक उद्योग है खादी का।

मेरठ में खादी स्वदेशी आन्दोलन के दौरान बड़े पैमाने पर विकसित हुयी थी। खादी मात्र वस्त्र नहीं है परन्तु यह एक युग प्रवर्तक परिधान है जिसने स्वतंत्रता संग्राम के दौरान विदेशी वस्त्रों को नकारने का कार्य किया था। वर्तमान काल में मेरठ में खादी का उत्पादन बड़े पैमाने पर किया जाता है। यहाँ पर हथकरघा उद्योग बड़े पैमाने पर रोजगार मुहैया करने का एक बड़ा साधन है। मेरठ हापुड़ रास्ते की तंग गलियों में गुजरते हुए सहसा ही यहाँ के हथकरघा उद्योग की आवाज कानों में गूँज जाती है।

पूरे भारत में खादी उत्पादन में यूपी का योगदान कुल 84 फीसदी का है। जबकि मध्य क्षेत्र में खादी उत्पादन में मेरठ क्षेत्र के कार्यरत संस्थानों की भागीदारी कुल 60 फीसदी है। मध्य क्षेत्र में 660 खादी संस्थाएं कार्यरत हैं। इन संस्थानों के पास 1,543 उत्पादन केंद्र, 658 सह बिक्री केंद्र और 1,973 बिक्री केंद्र है। इन संस्थानों के एक लाख 44 हजार परंपरागत चरखे, 24 हजार नए चरखे और 13,420 करघों के माध्यम से करीब 354 करोड़ रुपये से अधिक खादी के कपड़ों का उत्पादन किया जा रहा है। यह आंकड़ा इस बात की पुष्टि कर देता है कि मेरठ में खादी कितना बड़ा उद्योग है। समकालीन समय में सरकार द्वारा खादी पहनने पर ज्यादा जोर दिया जा रहा है तथा खादी के परंपरागत उत्पादों व वस्त्रों के निर्माण के अलावा नए प्रकार के भी कपड़े तैयार किये जा रहे हैं जो कि युवाओं के पसंद के हैं।

1. http://www.kvic.org.in/kvicres/index.html
2. https://inextlive.jagran.com/khadi-jeans-and-tshirt-will-available-in-meerut-101544



RECENT POST

  • क्या है, हमारे जीवन में कीटों का महत्व ?
    तितलियाँ व कीड़े

     02-06-2020 10:50 AM


  • विभिन्न उद्यमों ने किया है सरकार से मजबूत राहत पैकेज का अनुरोध
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     01-06-2020 11:25 AM


  • बाम्बिनो नामक लड़के की प्यारी सी कहानी है, ला लूना
    द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य

     31-05-2020 11:50 AM


  • एक मार्मिक चित्र जिसने 1857 की क्रांति के दमन को दर्शाया
    द्रिश्य 3 कला व सौन्दर्य

     30-05-2020 09:25 AM


  • आज भी आवश्यकता है एक प्राचीन रोजगार “नालबंद” की
    सिद्धान्त 2 व्यक्ति की पहचान

     29-05-2020 10:20 AM


  • भारत के पश्तून/पठानों का इतिहास
    सिद्धान्त 2 व्यक्ति की पहचान

     28-05-2020 09:40 AM


  • ब्रह्मांड की उत्पत्ति, इसके विकास और अंतिम परिणाम की व्याख्या करता है धार्मिक ब्रह्मांड विज्ञान
    विचार I - धर्म (मिथक / अनुष्ठान)

     27-05-2020 01:00 PM


  • भारतीय और एंग्लो इंडियन पाक कला
    स्वाद- खाद्य का इतिहास

     26-05-2020 09:45 AM


  • कहाँ से प्रारम्भ होता है, बाल काटने का इतिहास ?
    सिद्धान्त 2 व्यक्ति की पहचान

     25-05-2020 09:45 AM


  • क्या है, अतिचालकों का मीस्नर प्रभाव ?
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     24-05-2020 10:50 AM






  • © - 2017 All content on this website, such as text, graphics, logos, button icons, software, images and its selection, arrangement, presentation & overall design, is the property of Indoeuropeans India Pvt. Ltd. and protected by international copyright laws.