मेरठ में बैलगाड़ी

मेरठ

 11-02-2018 09:22 AM
कोशिका के आधार पर

मेरठ एक औद्योगिक शहर है यहाँ पर यातायात एक प्रमुख कारक रहा है विकास व प्रसार में। यह शहर अंग्रेजों द्वारा बसाया गया था तथा यहाँ पर शुरूआती दौर से ही कई यातायात का प्रबन्ध किया गया था, उस समय गाड़ीयों का प्रबन्ध ना होने के कारण बैल का प्रयोग किया जाता था। वह परम्परा आज भी मेरठ में जीवित है तथा यहाँ पर कहीं कहीं बैलगाड़ी दिखाई दे जाती है। यहाँ पर बैलगाड़ी खींचनें में लाये जाने वाले बैल नागौरी नश्ल के बैल हैं। नागौरी नश्ल के बैलों के विषय में यदि देखा जाये तो ये राजस्थान के नागौर जिले में उत्पन्न माने जाते हैं। नागौरी बैल प्रायः सफेद रंग के होते हैं। इनका सीना मजबूत होता है। आँखों में एक विशेष प्रकार की चमक होती है। इनकी गर्दन चुस्त, मुतान कसा हुआ, पूंछ अपेक्षाकृत छोटी, सींग छोटे व सुडौल, टांगें पतली, मुँह छोटा तथा त्वचा मुलायम होती है। ये बैल, एक दिन में पाँच एकड़ तक भूमि जोत सकते हैं। कच्चे मार्ग पर 6 से 8 क्विंटल तथा पक्के मार्ग पर 8 से 10 क्विंटल माल की ढ़ुलाई कर सकते हैं। नागोरी नस्ल के बैल रेगिस्थान के गरम मौसम के लिए बहोत ही उपयुक्त होते है। तेजी से चलने के कारण बैलगाड़ियों में इसका व्यापक इस्तेमाल किया जाता है। नागोरी नस्ल मुख्यतः कृषि उद्द्येशों की पूर्ती के लिए पाली जाती हैं। ये पशु सूखे के लिए बहोत उपयोगी होती हैं। दिये गये चित्र में नागौरी नश्ल के ही बैल को दिखाया गया है जो की मेरठ के नेता हकीमुद्दीन मार्ग (जो संगीत के वाद्य यंत्रो के लिये जाना जाता है) पर खड़ा है। यह प्रदर्शित करता है कि कैसे आज भी बैलों का प्रयोग यातायात व मालवाहक के रूप में किया जाता है। 1. नागौरी बैल, प्रेम कुमार, आई.जी.एन.सी.ए



RECENT POST

  • डिजिटल भारत का महत्वाकांक्षी उपग्रह जीसैट-11
    संचार एवं संचार यन्त्र

     21-01-2019 01:58 PM


  • जब तोड़ दी गयी 140 कि.मी लम्बी बर्लिन की दीवार
    ध्वनि 2- भाषायें

     20-01-2019 10:00 AM


  • आखिर क्या है ये स्मॉग, जिससे हो रही हैं अनेक बीमारियां
    जलवायु व ऋतु

     19-01-2019 01:00 PM


  • कैसे पैदा की जाती है जल से बिजली?
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     18-01-2019 12:00 PM


  • क्या हैं भूकप के कारण, प्रकार एवं उसके माप
    भूमि प्रकार (खेतिहर व बंजर)

     17-01-2019 01:47 PM


  • क्या होती है ये क्लाउड कंप्यूटिंग?
    संचार एवं संचार यन्त्र

     16-01-2019 02:32 PM


  • नई प्रतिभा को मौका देती आईडिएट फॉर इंडिया प्रतियोगिता
    नगरीकरण- शहर व शक्ति

     15-01-2019 12:38 PM


  • मकर संक्रांति पर खेला जाने वाला एक दुर्लभ खेल, पिट्ठू
    हथियार व खिलौने

     14-01-2019 11:15 AM


  • सन 1949 से आया एकता का सन्देश
    विचार 2 दर्शनशास्त्र, गणित व दवा

     13-01-2019 10:00 AM


  • कैसेट्स और सीडी का सफर
    संचार एवं संचार यन्त्र

     12-01-2019 10:00 AM